सिद्धू की पत्नी के भी बगावती सुर, कहा- कैप्टन नहीं, राहुल के सिपाही

कांग्रेस नेता और पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर के एक वीडियो ने विवाद बढ़ा दिया है. वीडियो में सिद्धू की पत्नी कहती दिखीं कि सिद्धू मुख्यमंत्री अमरिंदर के नहीं, राहुल के सिपाही हैं. अपने पति सिद्धू के सुर में सुर मिलाते हुए नवजौत कौर सिद्धू ने यह भी कहा कि उनके पति कांग्रेस की नई पीढ़ी के नेताओं से वास्ता रखते हैं, जो सिर्फ और सिर्फ राहुल गांधी का कहा मानते हैं.

माना जा रहा कि सिद्धू और उनकी पत्नी की इस ‘अनुशासनहीनता’ की शिकायत कैप्टन अमरिंदर सिंह राहुल गांधी से कर सकते हैं. कैप्टन अपनी कैबिनेट से सिद्धू को हटाने की भी सिफारिश कर सकते हैं. पंजाब में कैबिनेट फेरबदल होने वाला है. इस बाबत मुख्यमंत्री राहुल गांधी से चर्चा करने वाले हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी 10 दिसंबर को चंडीगढ़ एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने आने वाले हैं. इस दौरान संभव है सिद्धू का मसला उनके समक्ष उठे.

दूसरी ओर, कैप्टन वाले बयान पर सिद्धू बुरी तरह घिर गए हैं. उनके ही 10 साथी मंत्री कुर्सी लेने पर अड़ गए हैं. कैबिनेट की बैठक होने वाली है जिससे पहले रणनीति बनाने में कैप्टन जुट गए हैं. सूत्रों के मुताबिक सिद्धू को कैबिनेट में रखना है या नहीं, मुख्यमंत्री रविवार को इस पर फैसला कर सकते हैं. वे मंत्रियों से सलाह मशविरा कर रहे हैं. मंत्री राजेंदर बाजवा ने कहा कि अगर कैप्टन को सिद्धू नेता नहीं मानते तो मंत्री पद से इस्तीफा दें.

सिद्धू ने अभी हाल में कहा था कि अमरिंदर उनके कैप्टन नहीं हैं. उनके इस बयान ने अमरिंदर खेमे को नाराज कर दिया है. सूत्रों की मानें तो तकरीबन 10 मंत्री सिद्धू के खिलाफ उतर गए हैं और उनका इस्तीफा मांग रहे हैं. इनमें दो मंत्री ऐसे हैं जिन्होंने खुलेआम सिद्धू को इस्तीफा देने के लिए कहा है. इनमें एक राजेंदर बाजवा भी हैं. बाजवा ने कहा, ‘यह साफ है कि पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह ही हमारे नेता हैं. अगर सिद्धू इसे मंजूर नहीं करते हैं या उन्हें लगता है कि उनका कद कैप्टन से बड़ा है तो उन्हें कैबिनेट से इस्तीफा देना चाहिए.”

पंजाब के एक और कैबिनेट मंत्री सुखबिंदर सिंह सरकारिया ने कहा, ‘अगर कोई मंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को स्वीकार नहीं करता है, तो उसे कैबिनेट में बने रहने का कोई हक नहीं बनता.’ सिद्धू तब से विवाद में हैं जब से करतारपुर साहिब कॉरिडोर का मसला उठा है. सिद्धू पाकिस्तान गए थे और वहां के आर्मी चीफ कमर जावेद वाजवा से गले मिले थे जिसकी मीडिया में काफी आलोचना हुई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *