कश्मीर के लाल चौक में तिरंगा फहराएंगे अमित शाह, एनएसए अजीत डोभाल भी वहीं रुकेंगे, नीतीश कुमार भी अब बोले-सही है भाजपा

नई दिल्ली। भारत सरकार ने ये निर्णय लिया है कि एनएसए अजीत डोभाल 15 अगस्त तक कश्मीर में ही रुकेंगे। समाचार ये भी निकलकर आ रहा है कि 15 अगस्त को गृहमंत्री अमित शाह कश्मीर के लाल चौक पर तिरंगा फहराएंगे। इधर, एनडीए के सहयोगी दल जेडीयू के मुखिया और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी धारा-370 को हटाए जाने को लेकर अपना स्टैंड स्पष्ट कर दिया है। उन्होंने इस विषय पर भाजपा की प्रशंसा कर दी है। इन सबके बीच एनसीपी के नेता मजीद मेमन उखड़े हुए हैं। उन्होंने पूछा है कि अमित शाह को इतना सब कुछ करने की इतनी शीघ्रता क्यों है?

तब मोदी ने धमकियों के बावजूद फहराया था लाल चौक पर तिरंगा
रिपोर्ट्स की मानें तो केंद्र 15 अगस्त के कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर आंतरिक चर्चा कर रहा है। नैशनल सिक्यॉरिटी एडवाइजर अजीत डोभाल भी इस समय घाटी का दौरा कर रहे हैं। इससे पहले पाकिस्तान के आतंकी संगठनों से धमकियां मिलने के बावजूद 26 जनवरी 1992 को तत्कालीन बीजेपी अध्यक्ष मुरली मनोहर जोशी और नरेंद्र मोदी (तब आरएसएस प्रचारक) श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराने में सफल रहे थे।

ये भी पढ़ें-‘भाजपा को कश्मीर में तुम लेकर आई…’, ‘…नहीं! तेरी पार्टी लेकर आई…’, इस आरोप के साथ भिड़ गए उमर अब्दुला और महबूबा मुफ्ती

नेहरू ने सबसे पहले फहराया था तिरंगा
बता दें कि भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने 1948 में लाल लौक पर पहली बार तिरंगा फहराया था, तभी से इस जगह का महत्व और अधिक बढ़ गया था। उधर, एनसीपी नेता मजीद मेमन ने धारा-370 हटाए जाने के बाद श्रीनगर में तिरंगा फहराने के विचार का विरोध किया है।मेमन ने कहा, ‘केंद्र सरकार ने कश्मीरियों पर अपना निर्णय थोपा है चाहे उन्हें पसंद हो या न पसंद हो।’ उन्होंने कहा कि कश्मीरियों की बात को भी सुना जाना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘अमित शाह को सबकुछ करने की इतनी जल्दी क्यों है?’

नीतीश ने किया समर्थन
बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने लाल चौक पर तिरंगा फहराए जाने के निर्णय का समर्थन किया है। बता दें कि संसद में आर्टिकल 370 हटाए जाने का विरोध करने के बाद जेडीयू दो अलग धड़ों में बंट गई थी। पार्टी के कई नेता नीतीश कुमार के पक्ष से अप्रसन्न थे। इसके बाद नीतीश कुमार के करीबी माने जाने वाले आरसीपी सिंह ने दो टूक कहा था कि अब यह कानून बन गया है और कानून पूरे देश में लागू होता है। ऐसे में हम सभी को इसका पालन करना चाहिए। सिंह ने कहा था कि अब इस मुद्दे पर हम सभी को केंद्र सरकार के साथ होना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *