रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा का बजट सत्र सोमवार से शुरू हो रहा है। सत्र के पहले दिन राज्यपाल अनुसुइया उइके का अभिभाषण होगा । उसके बाद दिवंगत नेताओ को श्रद्धांजलि दी जाएगी । कल से शुरू होने वाला बजट सत्र 1 अप्रैल तक चलेगा इस दौरान 22 बैठकें होंगी ।

सत्र में उन्नीस सौ से अधिक सवाल लगाए गए हैं । इसी महीने के आखिरी में छत्तीसगढ़ का इस वित्तीय वर्ष का बजट पेश किया जाएगा । ये बजट करीब 1 लाख 4 हजार करोड़ का होगा ।

इस सत्र के दौरान भाजपा किसानों के मुद्दे, शराबबन्दी, लॉ एंड ऑर्डर , रेत उत्खनन में मनमानी, सीमेंट दामों में वृद्धि आदि मुद्दों को लेकर सरकार को घेरने की तैयारी में है ।

वहीं कांग्रेसी रमन सरकार के पुराने मामलों को उठाकर भाजपा पर पलटवार करने की तैयारी कर रही है, जिस तरह से सत्ता पक्ष और विपक्ष एक दूसरे को घेरने की रणनीति बना रहे है उसे देखकर कहा जा सकता है कि बजट सत्र हंगामेदार होगा ।