रायपुर। कोरोना संक्रमण की वजह से लॉक- डाउन की स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की विशेष पहल पर स्वास्थ्य विभाग, राज्य के मरीजों को घर बैठे चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने के उद्देश्य से टेलिफोनिक सलाह (टेलीमेडिसिन) की सुविधा शुरू करने जा रहा है। इसकी तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई हैं। आगामी दो-तीन दिनों में इसका लाभ राज्य के मरीजों को मिलने लगेगा । स्वास्थ्य विभाग यह सुविधा टोल फ्री नंबर 104 के माध्यम से मरीजों को उपलब्ध कराएगा। मरीजों को इसके माध्यम से कोविड-19 से संबंधित परामर्श के साथ ही अन्य बीमारियों के बारे में भी विशेषज्ञ चिकित्सकों का पैनल टेलीफोनिक सलाह देने के साथ ही व्हाट्सएप के माध्यम से दवाओं का प्रिसक्रिप्शन भी उपलब्ध कराएगा।

स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त संचालक ने बताया कि मरीजों को टेलीमेडिसिन की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए छत्तीसगढ़ राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने स्टेप वन संस्था से अनुबंध किया है इस संस्था के माध्यम से लगभग 600 विशेषज्ञ चिकित्सक मरीजों को टेलिफोनिक सलाह देने के लिए उपलब्ध होंगे, जिसमें लगभग 200 चिकित्सक छत्तीसगढ़ राज्य के हैं ।