दिल्ली/रायपुर। कोरोना वायरस संक्रमण में बचाव के लिए अपनी जिंदगी दाव पर लगाने वाले डाॅक्टरों पर हाल-फिलहाल में हमले के कई मामले सामने आए हैं। इस बात को लेकर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने गंभीर नाराजगी व्यक्त करते हुए केंद्र सरकार से इस मामले में हस्तक्षेप करने का आग्रह किया था। इस महत्वपूर्ण विषय को लेकर आज केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आईएमए सहित विभागीय अधिकारियों की बैठक आहूत की और एक सख्त निर्णय लिया।

इस निर्णय के मुताबिक डाॅक्टरों की सुरक्षा को लेकर अध्यादेश जारी कर दिया गया है। इसके मुताबिक अब डाॅक्टरों पर हमला करने वालों के खिलाफ गंभीर अपराधिक प्रकरण दर्ज किए जाएंगे। साफतौर पर यह कहा गया है कि हमलावरों के खिलाफ गैर जमानती अपराध दर्ज किया जाएगा, जिसमें 6 माह से लेकर 7 साल की सजा का प्रावधान होगा। इसके साथ ही यह भी तय कर लिया गया है कि संपत्ति नुकसान पर दोगुना वसूल किया जाएगा।

केंद्रीय गृह मंत्रालय के इस निर्णय को लेकर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने प्रसन्नता व्यक्त की है। एसोसिएशन का मानना है कि डाॅक्टर्स लोगों की जिंदगी बचाने के लिए हरसंभव प्रयास करता है, लेकिन कुछ लोगों का व्यवहार इतना बुरा होता है कि डाॅक्टर्स और मेडिकल स्टाफ की जान पर बन आती है।