रायपुर। देशभर में कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए जारी लाॅकडाउन के चलते होटल और रेस्टोरेंट में ताले लटक रहे हैं। आने वाले 17 मई के पहले इनके खुलने के कोई आसार भी नहीं है, इसके बावजूद राजधानी में छग होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन ने ऐसी मिसाल पेश की है, जिसका वास्तव में कोई मुकाबला नहीं है। आज छग होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष तरणजीत सिंह होरा के नेतृत्व में अन्य पदाधिकारियों और सदस्यों ने मुख्यमंत्री सहायता कोष के नाम पर रायपुर के महापौर एजाज ढे़बर को 11 लाख रुपए का चेक सौंपा।

इन कारोबारियों का व्यवसाय बीते 40 दिनों से ज्यादा वक्त से बंद है, इसके बाद भी प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जुझ रही सरकार को हर कदम पर सहयोग छग होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन हमेशा तैयार रहता है। एसोसिएशन के अध्यक्ष तरणजीत सिंह होरा का कहना है कि सालों से हम इन्हीं प्रदेशवासियों के बूते व्यवसाय करते आ रहे हैं, ऐसे में यह वक्त है जब प्रदेश की जनता और सरकार को हमें सहयोग करना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह राशि कोरोना संक्रमण राहत के काम आएगी।

छग होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के इस सहयोग पर महापौर एजाज ढ़ेबर ने एसोसिएशन के अध्यक्ष तरणजीत सिंह होरा सहित सभी पदाधिकारियों को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि वास्तव में यह एक बड़ा योगदान है, वह भी तब जबकि राजधानी सहित पूरे प्रदेश में इनका व्यवसाय बीते 40 दिनों से ज्यादा वक्त से पूरी तरह बंद पड़ा हुआ है।