रायपुर/मुंगेली-  आवश्यक सेवाओं की आड़ में मादक पदार्थो की तस्करी की जा रही है। पुलिस ने ऐसे ही दो तस्कर को पकड़ा है जो दूध का स्टिकर लगाकर  महुआ का परिवहन कर रहे थे। मूंगेली पुलिस ने बरेला चेकपोस्ट में अमूल दूध लिखे ट्रक को पकड़ा जिसमे दस क्विंटल से ज्यादा महुआ भरा था।

पुलिस ने शंका के आधार पर ट्रक क्रमांक सीजी 08 जेड 7265 को रुकवाकर चेक किया। पुलिस ने ट्रक के अंदर का नजारा देखा तो आंखे फटी की फटी रह गई। ट्रक में दूध का एक भी पैकेट नहीं मिला बल्कि दस क्विंटल से ज्यादा महुआ भरा था जिसे शराब बनाने ले जाया जा रहा था। पुलिस ने ट्रक जब्त कर ड्राइवर समेत दो लोगो को गिरफ्तार किया है।

राजधानी से निकला था ट्रक-
पुलिस को प्रारम्भिक जाँच में ड्राइवर ने रायपुर से महुआ ले कर जाना बताया है। ऐसे में पुलिस की सक्रियता पर सवाल उठता है की राजधानी से 120 किलोमीटर दूर तीन जिलों रायपुर बलौदाबाजार और बेमेतरा को पार करते हुए मुंगेली कैसे पहुंच गया। इस दौरान कही पर भी उसकी जाँच नहीं की गई। लॉकडाउन में आवशयक सेवा राशन, खाद्य पदार्थ, दूध, गैस सिलेंडर ी गाड़ियों को परिवहन की अनुमति दी है। जिसका फायदा तस्कर शराब और अन्य सामान परिवहन करने उठा रहे है।
लॉक डाउन में प्रदेश की सभी शराब दुकाने बंद है ऐसे में कच्ची शराब की मांग बढ़ गई।