Bilaspur News : देशभर के यूरोलॉजी (urology)डॉक्टरों का दो दिवसीय सम्मेलन(two day conference) बिलासपुर (Bilaspur)में 28 मई को होने जा रहा है। यह सम्मेलन छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh)में पहली बार होगा। इस मौके पर सर्जन पथरी रोगियों (stone patients)का ऑपरेशन भी करेंगे। इसका सीधा प्रसारण भी किया जाएगा।

also read:  Chhattisgarh Accident News : बिजली के खंभे में टकराने से बस में लगी भयानक आग, एक अज्ञात व्यक्ति की जलकर मौत

शहर में 28 – 29 मई को देशभर के यूरोलॉजी सर्जन का सम्मेलन होने जा रहा है। इस दौरान यूरोलॉजी विशेषज्ञ पथरी रोग की नवीनतम तकनीक से अवगत कराएंगे। इस दौरान जटिल पथरी रोग के मरीजों का ऑपरेशन भी किया जाएगा। इसका टीवी के जरिए लाइव प्रसारण किया जाएगा। अब पथरी के ऑपरेशन में चिर फाड नहीं होगा। बल्कि इसे लेजर के जरिए मूत्र नली से ही क्रश कर बाहर निकाला जा सकेगा। एक बार यदि पथरी बन गया तो उसे अन्य तरीके से नहीं निकाला जा सकता। ऑपरेशन ही एकमात्र उपाय है। मरीजों में यह देखा गया है की वे बियर आदि पीने लगते हैं। विशेषज्ञों ने पथरी रोग में बियर पीने को भ्रम बताया है। इसका चिकित्सा विज्ञान के क्षेत्र में उपचार ही एकमात्र निदान है।