रायपुर। छत्तीसगढ़ से कोचिंग के लिए राजस्थान के कोटा में फंसे छात्रों को लेने राज्य से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर गईं बसें कोटा से रवानगी ले चुकी हैं। छात्रों को संभागवार बसों में बिठाया गया है, ताकि बसों को सीधे संभाग मुख्यालय और फिर उनके जिला मुख्यालय पहुंचाया जा सके। मुख्यमंत्री बघेल ने देर रात ट्विटर पर इसकी जानकारी साझा की है।

जानकारी के मुताबिक इन बसों में कुल 2247 छात्र शामिल हैं। इनमें कुछ छात्रों को क्वारें टाईन कर दो अलग बसों में बिठाकर लाया जा रहा है। छात्रों को लेने गए डॉक्टरों की मानें तो केवल सुरक्षा के लिहाज से कुछ छात्रों को क्वारें टाईन किया गया है। इसमें चिंता की कोई बात नहीं है।

बहरहाल अब सभी को कोटा से लाए जा रहे छात्रों का इंतजार है। इनके लिए जिलों के स्कूलों को क्वारें टाईन सेंटर बनाया गया है, जहां 14 दिनों तक उन्हें रखा जाएगा।