अंबिकापुर। एसडीओपी से विवाद के बाद सुर्खियों में आई एसडीएम बबली बैरागी और तत्कालीन सीईओ एसके मरकाम को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही तत्कालीन कार्यक्रम अधिकारी अश्विनी तिवारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया गया है। बता दें कि बबली बैरागी पर अंबिकापुर जनपद में प्रभारी सीईओ रहते फर्जी भुगतान किए जाने का आरोप है।
दरसअल ज्योति बबली बैरागी साल 2014-15 में अंबिकापुर जनपद में प्रभारी सीईओ के पद पर पदस्थ थीं। उन पर आरोप है कि उन्होंने पद का दुरुपयोग करते हुए 38 लाख रुपए से ज्यादा के काम में 14 लाख रुपए से ज्यादा का फर्जी भुगतान किया था। मामले का खुलासा होने के बाद जिला प्रशासन ने कार्रवाई की है।