रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, उद्योग मंत्री कवासी लखमा, केंद्रीय गृह मंत्रालय के वरिष्ठ सुरक्षा सलाहकार विजय कुमार और पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी सहित सोमवार सुबहर सुकमा पहुंचे। इन शहीद जवानों का पार्थिव देह पुलिस लाइन में अंतिम श्रद्धांजलि के लिए रखा गया था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सहित सभी ने शहीदों को पुष्प अर्पित कर श्रद्धासुमन अर्पित किया। बता दें कि शहीद हुए 17 में से 12 जवान सुकमा के ही हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इन सभी शहीदों के परिजनों से मुलाकात की और उन्हें हौसला दिया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि यह नक्सलियों की घिनौनी हरकत थी। उन्होंने देश के बेटों पर चोरी-छिपे हमला किया है, इसका हर्जाना उन्हें चुकाना होगा। सीएम बघेल ने कहा कि वे गोलियों से इस समस्या का हल नहीं निकालने चाहते थे, लेकिन नक्सलियों की करतूत उन्हें दूसरी दिशा में सोचने पर मजबूर कर रहे हैं। बहरहाल इस वक्त कोरोना से लड़ाई जारी है, नक्सल हमले का जवाब भी जल्द दिया जाएगा। इसके लिए बकायदा केंद्र सरकार से चर्चा की जाएगी और ठोस निर्णय लिया जाएगा।