रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लॉकडाउन की वजह से अन्य राज्यों में फंसे छत्तीसगढ़ के श्रमिकों की घर वापसी के लिए अहम फैसला लेते हुए कहा है कि श्रमिकों को स्पेशल ट्रेन द्वारा प्रदेश लाने पर उनके यात्रा किराया का व्यय भार राज्य सरकार वहन करेगी.
मुख्यमंत्री के निर्देश पर राज्य के परिवहन आयुक्त डाॅ. कमलप्रीत सिंह ने रायपुर के डिवीजनल रेलवे मैनेजर एवं नोडल अधिकारी (रेलवे) श्याम सुंदर गुप्ता को पत्र लिखा है

.

परिवहन आयुक्त ने अपने पत्र में लिखा कि कोविड-19 के तहत भारत सरकार द्वारा संपूर्ण देश में तृतीय लाॅकडाउन के तहत 4 मई से दो सप्ताह की प्रभावी अवधि तक लाॅकडाउन घोषित किया गया है. लाॅकडाउन के कारण छत्तीसगढ़ राज्य के मजदूर-श्रमिक जो अन्य राज्यों में फंसे है, उन मजदूरों-श्रमिकों को रेल सुविधा के माध्यम से लाने के लिए राज्य शासन द्वारा निर्णय लिया गया है.

इस संबंध में छत्तीसगढ़ के मजदूरों-श्रमिकों को अन्य राज्य से छत्तीसगढ़ आने रेलवे द्वारा श्रमिक स्पेशल रेल सुविधा प्रदाय करने पर, उनके यात्रा किराये का व्यय भार राज्य शासन द्वारा वहन किया जाएगा. इस संबंध में यथोचित आवश्यक आगामी कार्यवाही करते हुए, अवगत कराने का कष्ट करें.