रायपुर। कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए सरकार, प्रशासन, पुलिस और चिकित्सकों के साथ पत्रकार भी अपनी जान और परिवार की परवाह को किनारे कर निर्बाध सेवाएं दे रहे हैं। सरकार और निजी प्रबंधनों ने अपने लोगों की परवाह करते हुए उनके हित में फैसले पहले ही ले लिए हैं, लेकिन मीडिया संस्थानों में समर्पित भाव से काम करने वालों की सुध लेने वाला कोई नहीं है। इस बात पर ध्यान देते हुए रायपुर प्रेस क्लब के अध्यक्ष दामु अम्बाडारे के नेतृत्व में पत्रकारों और फोटो जर्नलिस्टों का एक प्रतिनिधि मंडल मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देने उनके ओएसडी अरूण मरकाम से मुलाकात के लिए पहुंचा। प्रतिनिधि मंडल ने पत्रकारों की सुरक्षा के साथ उनके लिए 20 लाख रुपए के स्वास्थ्य बीमा कराए जाने की मांग की है।
प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री को सौंपे ज्ञापन में इस बात का खासतौर पर उल्लेख किया है कि कोरोना संक्रमण के दौर में संस्थान द्वारा किसी भी मीडिया कर्मी पर अनावश्यक दबाव ना बनाया जाए। साथ ही उन्हें अपने घरों में रहकर कार्य की छूट प्रदान की जाए और संस्थान उपलब्ध कराए जाएं, इसके लिए मुख्यमंत्री स्वयं मीडिया संस्थानों के प्रमुखों की बैठक लेकर उन्हें निर्देशित करें, ताकि कोई भी मीडिया कर्मी इस खतरनाक संक्रमण की चपेट में ना आ पाए। इस प्रतिनिधि मंडल में रायपुर प्रेस क्लब अध्यक्ष दामू अम्बाडारे के साथ वरिष्ठ पत्रकार मोहन राव, राजेश दुबे, संजय शुक्ला, गोकूल सोनी सहित बड़ी संख्या में अन्य लोग मौजूद थे।