रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा का बजट सत्र राज्यगीत अरपा पैरी के धार के साथ शुरू हुआ। इसके साथ ही राज्यपाल अनुसुईया उइके ने सदन को संबोधित किया। इससे पहले विधानसभा अध्यक्ष डाॅ. चरणदास महंत की अध्यक्षता में कार्य मंत्रणा समिति की बैठक हुई, जिसमें मुख्यमंत्री सहित विपक्ष के नेताओं ने भी हिस्सा लिया। इस बैठक में बजट सत्र को सुचारू रूप से चलाए जाने पर सहमति बनी।
राज्यपाल ने सदन में अपने संबोधन में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की योजनाओं से छत्तीसगढ़ लगातार पल्लवित हो रहा है। वहीं उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि नरवा, गरूवा, घुरूवा, बाड़ी अभियान ने भी प्रदेश के किसानों के साथ ही अन्य जनमानस की मनःस्थिति को बदला है। राज्यपाल ने कहा कि जेलों में सालों से निरूद्ध आदिवासियों की रिहाई के द्वार उनकी सरकार में खुल गए हैं। इसके अलावा अनुसूचित जाति व जनजाति के साथ ही अन्य वर्गों के लिए प्रदेश में रास्ते खुले हैं।