रायपुर। पूर्व सीएम रमन सिंह के ओएसडी रह चुके ओपी गुप्ता पर नाबालिग पीड़िता को परिजनों के साथ गायब करने का आरोप लगा है। पूर्व सीएम रमन सिंह के ओएसडी रहे ओपी गुप्ता पर 8 जनवरी को नाबालिग ने रेप का केस दर्ज कराया था। जिसके बाद से गुप्ता को पुलिस ने गिरफ्तार के जेल भेज दिया है।
बता दें कि बीते दिनों पीड़िता के परिजनों ने राजनांदगांव में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पीड़िता को गायब करने का गंभीर आरोप लगाया था। जिस पर मोहला थाना पुलिस ने मंगलवार को रिपोर्ट दर्ज की है। पीड़िता मूलतः मोहला थाना क्षेत्र की है जिसे ओपी गुप्ता पढ़ाने के बहाने रायपुर के अपने घर में लाया था । ओपी गुप्ता नाबालिग के साथ अश्लील हरकत करता था। जिसकी शिकायत पीड़िता ने महिला थाना रायपुर में की थी।

नाबालिग के आरोपों पर आगामी 20 मार्च को पीड़िता बयान दर्ज कराएगी। पीड़िता के लोकल गार्जियन जो कि एक सामजसेवी हैं, रायपुर एसएसपी से भी शिकायत करते हुए पीड़िता के परिजनों समेत गायब होने पर केस को कमजोर करने और पीड़िता पर दबाव बनाने का आरोप लगाया है। वहीं समाजसेवी संस्था ने गुप्ता पर एफआईआर करने की मांग की है। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने गुमशुदगी का मामला दर्ज कर तलाश में जुटी हुई है।