भूस्खलन : अमरनाथा यात्रा में गए छत्तीसगढ़ के 11श्रद्धालु फंसे, 3 यात्रियों की तबीयत बिगड़ी

 रायपुर। बाबा अमरनाथ( amarnath) की यात्रा पर निकले छत्तीसगढ़ के 11 श्रद्धालु वहां रास्ते में ही फंस गए हैं। ऐसा भारी बरसात और भूस्खलन के चलते हुआ है। 3 यात्रियों की तबीयत भी बिगड़ गई है। अब वहां फंसे यात्रियों ने मदद की गुहार लगाई है। जिसके बाद उन्हें मदद भी पहुंची है।

Read more : Amarnath Yatra : बादल फटने से रोकी गई अमरनाथ यात्रा फिर शुरू, जानें कब होंगे बाबा के दर्शन

बताया जा रहा है कि इन यात्रियों में कोरबा के 9 लोग शामिल थे, वहीं 2 लोग प्रदेश के दूसरे स्थानों के रहने वाले हैं। इन यात्रियों का जत्था कुछ समय पहले ही इस यात्रा के लिए निकला था। मगर पिछले दिनों श्रीनगर( shrinagar) दलगेट रोड पर हुए भारी बरसात और भूस्खलन के कारण फंस गया है। उन्हीं लोगों में से कोरबा( korba) के रजगामार निवासी ऋषभ यादव भी शामिल हैं। ऋषभ ने ही वार्ड नंबर-04 के पार्षद सुरेंद्र प्रताप जायसवाल से मदद की गुहार लगाई थी। जिसके बाद इन लोगों के फंसे होने की जानकारी( information) सामने आ सकी है। ऋषभ यादव ने बताया कि हमारे तीन साथी भूस्खलन की चपेट में आ गए थे। जिसके कारण उनकी तबीयत बिगड़ गई थी। उनमें से एक को अस्पताल( hospital) में भर्ती कराया गया है। जहां उसका उपचार जारी है।

हर साल 30 जून से शुरू होती है यात्रा ( yatra) 

30 जून से यह यात्रा शुरू हुई है। इस साल जम्मू-कश्मीर की अमरनाथ यात्रा 11 अगस्त (रक्षाबंधन) तक रहेगी। बाबा अमरनाथ की गुफा का इतिहास हजारों साल पुराना है। गुफा के अंदिर बर्फीले पानी की बूंदें लगातार टपकती रहती हैं, इन्हीं बूंदों से लगभग 10-12 फीट ऊंचा बर्फ का शिवलिंग बन जाता है।