रायपुर। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए राज्यों के विधानसभा अध्यक्षों से चर्चा कर रहे हैं। लोकसभा अध्यक्ष और अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्मेलन के सभापति ओम बिरला ने निर्धारित समय पर राज्य विधान मंडलों के पीठासीन अधिकारियों से कोरोना वायरस संक्रमण और उससे बचाव व रोकथाम के लिए किए जाने वाले उपाय पर चर्चा आरंभ की। लॉक डाऊन के दौरान विधायिका के क्रियाकलाप से संबंधित विभिन्न विषयों पर वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने चर्चा की।

इस चर्चा में छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डाॅ. चरणदास महंत भी शामिल हुए। उन्होंने लोस अध्यक्ष बिरला से सहयोग की अपेक्षा में आग्रह किया कि देश के विभिन्न राज्यों में फंसे मजदूरों और कोटा में फंसे छात्रों को किसी भी तरह से घर पहुंचाने की व्यवस्था करें, ताकि सभी अपने घर आ सकें। डाॅ. महंत ने विश्वास दिलाया कि निश्चित समयावधि तक उन सभी को क्वारेंटाइन रखा जाएगा, ताकि किसी को दिक्कत का सामना ना करना पडे़। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने विधानसभा अध्यक्षों से चर्चा में कहा कि जिन जिन प्रदेशों के मजदूर और छात्र दूसरे राज्यों में फंसे हैं,उन्हें सकुशल घर पहुंचाने की व्यवस्था करें। अपने विधायकों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराएं, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने लोगों को भी इसके लिए जागरूक करने को कहा है। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि हम मिलकर कोरोना का सामना करेंगे।