महाराष्ट्र सियासी संकट: शिंदे गुट बोला- बीजेपी संग बनाएंगे सरकार, पवार ने कहा- विधानसभा में देखेंगे
 

Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में जारी सियासी घमासान के बीच NCP प्रमुख शरद पवार ने कहा कि MVA ने CM उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को समर्थन देने का फैसला किया है. उन्होंने कहा कि मेरा मानना ​​है अगर एक बार (शिवसेना) विधायक मुंबई लौट आएंगे तो स्थिति बदल जाएगी. साथ ही उन्होंने कहा कि सब जानते हैं, कैसे शिवसेना के बागी विधायकों को गुजरात और फिर असम ले जाया गया. हमें उनकी मदद करने वालों का नाम लेने की जरूरत नहीं है…असम सरकार उनकी मदद कर रही है. मुझे आगे किसी का नाम लेने की जरूरत नहीं है.

विधानसभा में होगा फैसला

इसके अलावा उन्होंने कहा कि बहुमत का फैसला विधानसभा में होगा. वे विधायकों को बोले असम में नहीं मुंबई में फैसला होगा. उन्होंने कहा कि फ्लोर टेस्ट में बहुमत पता चला जाएगा. पवार ने सरकार की तारीफ करते हुए यह भी कहा कि उद्धव ठाकरे ने अच्छा काम किया है. पवार ने अपने बयान में यह भी साफ कर दिया कि उनके पास सबका आंकड़ा है.

इधर शिंदे गुट सरकार बनाने को तैयार

गौरतलब है कि सरकार बचाने के इस बयान से बिल्कुल इतर शिंदे गुट के नेता भरत गोगवले ने Zee News से कहा कि उनकी सरकार बनना तय है. उन्होंने डिप्टी स्पीकर से अगल गुट को मान्यता देने की मांग की है. साथ ही उन्होंने कहा कि हम 8 से 10 दिन में सरकार बना लेंगे. इस बीच उन्होंने कहा कि भाजपा का समर्थन उन्हें ही मिल रहा है.

शिंदे के पाले में है गेंद!

आपको बता दें कि फिलहाल गेंद पूरी तरह से शिंदे पक्ष के ही पाले में है. उन्हें भाजपा और शिवसेना दोनों ही ओर से अच्छे प्रस्ताव दिए जा रहे हैं. शिवसेना नेता संजय राउत ने भी कहा कि अगर सभी विधायक चाहेंगे तो वो महा विकास अघाड़ी (MVA) से बाहर निकलने पर विचार कर सकते हैं. इसके अलावा भाजपा की ओर से भी उन्हें सरकार बनाने के लिए समर्थन का ऑफर दिया जा रहा है.