धमतरी। कोरोना वायरस के रोकथाम के साथ ही राज्य सरकार ने प्रदेशभर में गरीब और असहाय लोगों तक भोजन, राशन सहित अन्य जरूरत के सामानों को उन तक पहुंचाए जाने का निर्देश दिया है। निर्देश पर अमल का जायजा लेने धमतरी जिला के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा अचानक जा धमके। उन्होंने जिला प्रशासन की तैयारियों का जायजा लिया और जरूरी दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने जिला सहित अन्य विभागीय अधिकारियों को स्पष्ट तौर पर कहा कि भारत सरकार के गाइड लाइन का कहीं पर भी उल्लंघन नहीं होना चाहिए। इस दौरान उन्होंने मीडिया से भी चर्चा की।

https://www.youtube.com/watch?v=8Ru-HjLyEcc

धमतरी जिला के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा कोरोना महामारी के दौरान तैयारियों का जायजा लेने के लिए पहुंचे। सबसे पहले उन्होंने सामुदायिक भवन का निरीक्षण किया, इसके बाद खाद्य सामाग्रियों की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस मौके पर जिला प्रशासन, नगर निगम प्रशासन, पुलिस सहित विभिन्न विभागों के प्रमुख अधिकारी मौजूद रहे। प्रभारी मंत्री लखमा ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि मुख्यमंत्री के निर्देश के मुताबिक जिले के प्रत्येक हितग्राही को पर्याप्त राशन की व्यवस्था कराई जानी है, साथ ही प्रधानमंत्री के निर्देशों का पालन भी कराया जाना है। पत्रकारों से चर्चा में उन्होंने कहा कि भीड़ इकट्ठा करना उनका उद्देश्य नहीं है, लेकिन जरूरी लोगों को प्रवास के दौरान भगाया भी नहीं जा सकता।

इस दौरान उन्होंने कटघोरा में आए कोरोना पाॅजिटिव के मरीजों को लेकर भी पत्रकारों से चर्चा की। उन्होंने कहा कि भूपेश सरकार लगातार सक्रिय है। जानकारी छिपाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही संक्रमण के सवाल पर कहा कि जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते रहने से किसी को कोई खतरा नहीं है। उन्होंने बताया कि बस्तर में मुर्गा बाजार को बंद कर दिया है, यह सबसे बड़ा प्रमाण है कि प्रदेश सरकार किस स्तर पर काम कर रही है।