रायपुर। रायपुर नगर निगम कमिश्नर सौरभ कुमार ने आज छत्तीसगढ़ होटल और रेस्टोरेंट एसोसिएशन की बैठक नगर निगम सभाकक्ष में आहूत की। इस बैठक में होटल एवं रेस्टोरेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष तरणजीत सिंह होरा सहित होटल और रेस्टोंरेंट के संचालक उपस्थित रहे। निगम आयुक्त ने इस महत्वपूर्ण बैठक में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए आवश्यक बातों पर सभी का ध्यान आकृष्ट कराया। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ भले ही कोरोना की चपेट में नहीं है, लेकिन देश और दुनिया में जारी कोरोना वायरस की जंग को हल्के में नहीं लिया जा सकता। बड़ी तादाद में लोगों के आने और जाने का क्रम जारी है, ऐसे में कौन व्यक्ति कोरोना से पीड़ित है, इसका आकलन तत्काल कर पाना संभव नहीं है, लिहाजा इस लाइलाज बीमारी की चपेट में आने से बचने के लिए सतर्कता बरतने की जरूरत है।
निगम आयुक्त सौरभ कुमार ने कोरोना वायरस को केंद्रित करते हुए कहा कि सभी होटलों और रेस्टोरेंट में यह सुनिश्चित किया जाए कि होटल और रेस्टोरेंट में प्रत्येक कर्मी हाथ धोने के लिए सेनेटाइजर का उपयोग करे, प्रत्येक व्यक्ति माॅस्क का उपयोग करे और स्वच्छता का पूरा ख्याल रखे।
कोरोना के साथ ही निगम आयुक्त ने अन्य दो मसलों पर भी एसोसिएशन से चर्चा की। जिसमें खाद्य उद्योग के उपयोग के लिए ग्रेड 50 से नीचे की पाॅलिथीन का उपयोग नहीं किया जाना है। उन्होंने इसकी अनिवार्यता पर जोर दिया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उन होटलों के लिए ठोस कचरा प्रबंधन अनिवार्य है जहां से प्रतिदिन 50 किलोग्राम से अधिक अपशिष्ट निकलता हो।
इन तीनों मसलों पर चर्चा के उपरांत निगम आयुक्त सौरभ कुमार ने उपस्थित होटल एवं रेस्टोरेंट संचालकों से भी सुझाव आमंत्रित किया। इस दौरान निगम उपायुक्त पुलक भट्टाचार्य, योगदर्शन यदू सहित नगर निगम के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।