पर्चा जारी कर नक्सलियों ने की अंडे के साथ आश्रमों में मांसाहार भोजन देने की मांग

दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ में स्कूल मध्याह्न भोजन में सुपोषित करने के मद्देनज़र बच्चों को अंडा वितरण को लेकर कबीरपंथियों और भाजपा के विरोध से मचे सियासी घमासान के बाद अब नक्सलियों ने अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है।

भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) ने मध्यान भोजन के साथ आश्रम- छात्रावासों में अंडे के साथ रोजाना मांसाहार भोजन देने की बात कही है। भाजपा का मध्यान भोजन में अंडा देने के विरोध को गलत बताया है। इसके साथ ही दशहरा पर्व में रावण दहन प्रथा का विरोध करने और भाजपा सहित संघ व उनमें जुड़े आदिवासी नेताओं का विरोध करने की बात कही है।

आपको ये भी बता दें कि 2015 में छत्तीसगढ़ की बीजेपी सरकार ने मिड डे मील के मैन्यू से यह कहते हुए अंडे को हटा दिया था कि इससे लोगों की धार्मिक भावनाओं को चोट पहुंचती है।

यह भी पढेँ –

सिमी आतंकवादी अजहरूद्दीन उर्फ अजहर उर्फ केमिकल अली हैदराबाद में गिरफ्तार,रायपुर से 6 साल पहले हुआ था फरार 

यह भी पढ़ें –

पर्चा जारी कर पुलिस की मुखबिरी करने का आरोप लगाकर नक्सलियों ने की युवक की धारदार हथियार से हत्या

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *