#370 पर अखिलेश ने सुनाया-‘बैंगन’ वाला किस्सा’

लोकसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पर चर्चा चल रही है। इसी चर्चा के दौरान समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव केंद्र सरकार पर जमकर बरसते नज़र आये और इस फैसले को गलत कहा साथ ही और इस फैसले से कश्मीर की जनता खुश नहीं है।

अखिलेश यादव ने कहा कि मेरे पड़ोसी सदन में ही मौजूद नहीं हैं। गृह मंत्री कह रहे हैं कि हमने इस प्रस्ताव को विधानसभा से पास कराया है। जिसपर अमित शाह ने बीच में टोका और कहा कि राष्ट्रपति ने अपनी शक्ति का इस्तेमाल किया और  राज्यपाल को ही विधानसभा की ताकत दी।

सपा प्रमुख ने कहा कि दो दिन पहले जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल कह रहे थे, कि उन्हें कुछ नहीं पता है, लेकिन पिछले 48 घंटे में आपने जो किया वो पूरे देश ने देखा है।आप जश्न मना रहे हैं, लेकिन जिस प्रदेश के लिए फैसला लिया गया है वहां के लोगों का क्या हाल है उसकी चिंता नहीं ?

इस दौरान अखिलेश ने एक किस्सा सुनाते हुए कहा कि बादशाह ने एक बार दावत में कहा कि बैंगन की सब्जी अच्छी है तो उनके मंत्रियों ने भी सब्जी की तारीफ कर दी।और बादशाह के साथी बीरबल ने भी ऐसा ही किया।लेकिन अगले ही दिन जब बादशाह की तबीयत खराब हुई तो उन्होंने बीरबल के सामने बैंगन की सब्जी की बुराई की।

अखिलेश ने बताया कि इसके बाद बीरबल ने भी ऐसा ही किया, जब बादशाह ने सवाल किया तो बीरबल ने कह दिया कि वह बैंगन की नौकरी नहीं करते हैं, बल्कि बादशाह की नौकरी करते हैं। जो बादशाह कहेगा, वही मैं कहूंगा.

अंत में अखिलेश यादव ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल ने भी ऐसा ही किया है। सपा प्रमुख ने बताया कि मैं जिस आर्मी स्कूल से पढ़ा हूं वहां के कई साथी घाटी में आतंकवादियों से लड़ते हुए शहीद हुए हैं, मेरे साथी मेजर गोपिंदर सिंह राठौड़ को भी हमने खोया है। उन्होंने कहा कि आप लोग कहते हो कि सत्तर साल में कुछ नहीं हुआ है तो क्या आप अपने 11 साल नहीं गिनते हैं।

इसके अलावा अखिलेश यादव ने सरकार से पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) पर भी जवाब मांगकर पूंछा कि गृह मंत्री इस बात का भरोसा दें कि PoK हमारा ही हिस्सा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *