नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज आकाशवाणी पर ’मन की बात’ कही। पीएम मोदी ने कहा कि देश और दुनिया में आतंक का सबब बन चुकी यह महामारी अपनी पूरी ताकत झोंक चुकी है, लेकिन भारत की अखंडता ने इस महामारी को सबक सिखाया है। बीते एक माह से पूरा भारत एकजुट होकर अपने घरों में है, तमाम व्यवसाय बंद पड़े हैं, लेकिन इस दौरान आपसी सहयोग की जिस भावना का परिचय देश ने दिया है वह अतुलनीय है। यह अखंड भारत का संयम ही है, जिसकी वजह से इस खतरनाक महामारी के खिलाफ भारत इतनी मजबूती से खड़ा है और सामना कर रहा है।

पीएम मोदी ने कहा कि विश्व के अन्य देशों में जहां हाहाकार की स्थिति है, उसके मुकाबले भारत में स्थिति नियंत्रित है। इसके पीछे वजह देश की जनता का त्याग है, बलिदान है, सहयोग है। पीएम मोदी ने कहा कि कहीं कोई राशन बांट रहा है, कोई माॅस्क बनाकर मुफ्त में लोगों को बांट रहा है, कोई अपनी सब्जी की पूरी बाड़ी जनता के नाम किए बैठा है, कोई दिन-रात गरीबों के लिए भोजन बनाने में जुटा हुआ है। यह असाधारण है, जिसका अनुसरण विश्व के दूसरे देश भी करना चाहते हैं, लेकिन उनके पास भारत की जनता नहीं है।

पीएम मोदी ने कोरोना के खिलाफ जारी इस जंग को ’पिपल्स ड्रिवन’ का नाम दिया। उन्होंने कहा कि देश की जनता ने चाहा, इस वजह से ही तुलना नजरिए से भारत की स्थिति बेहतर है और इस जंग को जीतने की तरफ भारत अग्रसर है। आइये सुनते हैं पीएम मोदी के मन की बात