RBI के सख्‍त फैसले से लाखों अकाउंट होल्‍डर्स को झटका, अब इन तीन बैंकों पर लगाया बैन

Reserve Bank of India: र‍िजर्व बैंक ऑफ इंड‍िया (RBI) ने तीन सहकारी बैंकों की बिगड़ती वित्तीय स्थिति (Financial Condition) को देखते हुए उन पर पैसा न‍िकाले समेत कई तरह के प्रतिबंध लगाए हैं. आरबीआई की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि जयप्रकाश नारायण नगरी सहकारी बैंक (Jayprakash Narayan Nagari Sahakari Bank), बासमतनगर पर रोक लगने के चलते खाताधारक अपने अकाउंट से पैसा नहीं निकाल पाएंगे.

अब इन बैंकों पर लगा प्रत‍िबंध
इसके अलावा द करमाला अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक (the karmala urban co-operative bank), सोलापुर के अकाउंटहोल्‍डर भी अपने खातों से केवल 10,000 रुपये ही निकाल सकते हैं. आरबीआई ने दुर्गा को-ऑपरेटिव अर्बन बैंक, विजयवाड़ा (Durga Co-operative Bank, Vijayawada) पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है. इसके ग्राहक अपनी जमा राशि से 1.5 लाख रुपये तक निकाल सकते हैं.

आरबीाई के अनुसार ही होगा लेनदेन
इससे पहले भी आरबीआई ने कई बैंकों के ख‍िलाफ कड़े फैसले ल‍िए हैं. हाल ही में आरबीआई ने चार बैंकों के पर प्रतिबंध लगाए हैं. इन चार बैंकों से जुड़े ग्राहक भी आरबीआई (RBI) के जरिए तय की गई लिमिट के हिसाब से ही पैसे न‍िकाल सकेंगे. हाल ही में ज‍िन चार सहकारी बैंकों पर प्रतिबंध लगाए गए हैं उनमें साईबाबा जनता सहकारी बैंक, द सूरी फ्रेंड्स यूनियन को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड, सूरी (पश्चिम बंगाल) और बहराइच के नेशनल अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड है.

इससे ज्‍यादा राश‍ि न‍िकालने पर रोक
आदेश के मुताबिक, साईबाबा जनता सहकारी बैंक के जमाकर्ता 20,000 रुपये से अधिक नहीं निकाल सकते है. जबकि सूरी फ्रेंड्स यूनियन को-ऑपरेटिव बैंक के लिए यह सीमा 50,000 रुपये है. इसी तरह, नेशनल अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक के मामले में निकासी की सीमा प्रति ग्राहक 10,000 रुपये कर दी गई है. आरबीआई ने बिजनौर स्थित यूनाइटेड इंडिया को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड पर भी कई प्रतिबंध समेत ग्राहकों द्वारा धन निकासी पर रोक लगा दी है.