सरगुजा। कोरोना वायरस के खिलाफ शुरू हुई जंग में हर कोई अपने अपने तरीके से इस जंग में मानवता की जीत के लिए प्रयास कर रहा है। इसी कड़ी में सरगुजा की नन्हीं गायिका स्तुति जायसवाल ने अपने गानों के माध्यम से लोगों को लॉकडाउन के प्रति जागरूक करने का प्रयास किया है। स्तुति के पिता राजेश जायसवाल का उसे भरपूर सहयोग मिल रहा है। पिता राजेश ने स्तुति के गाने को रिकार्ड कर उसका एक वीडियो बनाया है, जिसे वह प्रदेशभर में प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचाने का प्रयास भी कर रहे हैं। स्तुति ने इस जागरूकता गीत को पहले हिंदी में और अब छत्तीसगढ़ी भाषा में गाया है।
स्तुति ने हाल ही में दसवीं कक्षा की परीक्षा दी है। इस छोटी सी उम्र में वह 2 बार मुम्बई में रियलिटी शो का हिस्सा भी बन चुकी है। गीत-संगीत के प्रति स्तुति की रूचि ने उसे इंटरनेशनल स्टेज तक पहुंचने में मदद की थी अब वह अपने इसी शौक के बहाने आम जनता को जागरूक करने का सराहनीय काम कर रही है। पिता के संगीत शिक्षक होने का भरपूर लाभ स्तुति को मिल रहा है। पिता और बेटी के बीच का बेहतर तालमेल कोरोना के खिलाफ जारी जंग में संगीत के माध्यम से आम लोगों तक पहुंच रहा है। स्तुति और राजेश जायसवाल सभी से अपील की है कि कोरोना से बचाव के लिये लॉकडाउन का समर्थन करें और अपने घरों पर ही रहकर सोशल डिस्टैन्सिंग का पालन करें।
बहरहाल संगीत एक माध्यम है, असल बात प्रदेश के लोगों को इस महामारी के प्रति जागरूक करना है और अपील है कि लोग अपने घरों पर रहें, लाॅक डाउन के नियमों का पालन करते रहें, सरकार के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन ना करें।

https://www.youtube.com/watch?v=xrAnJpQ_AoQ&feature=youtu.be