छात्राओं के साथ अश्लील हरकत करने वाली खबर से प्रशासन हुई सख्त, 7 शिक्षकों को सस्पेंड करने का आदेश जारी, पढ़िए पूरी खबर

रायपुर। शिक्षक जैसे पद पर रहते हुए देश के भविष्य के साथ शर्मशार करने वाले घटना से शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया है। यह पूरा मामला बलौदाबाजार के मरदा उच्चतर माध्यमिक विदयालय का जहा शिक्षकों पर छत्राओं के साथ अश्लील हरकत करने का मामला सामने आया है। शिक्षकों पर शर्मनाक आरोप लगा था कि उन्होंने लड़कियों को धमकाकर उनका शारीरिक शोषण किया करते थे। छात्राओं के नंबर बढ़ाने और पास करने के एवज में छात्राओं से छेड़खानी लंबे समय से की जा रही थी।

राज्य सरकार  के पास इस मामले की शिकायत पहुंचने के बाद विभाग ने पूरे प्रकरण को बेहद गंभीरता से लेते हुए तत्काल प्रभाव से सभी शिक्षकों को सस्पेंड कर दिया है।

डीपीआई ने रामेश्वर प्रसाद साहू, दिनेश कुमार साहू, चंदन दास बघेल और रूप नारायण साहू को निलंबित कर विभागयी जांच का निर्देश दिया है। ये सभी शिक्षाकर्मी से हाल ही में व्याख्याता एलबी में पदोन्नत हुए हैं। वहीं अन्य शिक्षकों में लालमन बेरवंश, देवेंद्र कुमार खुंटे व्याख्याता शिक्षक के पद पर पदस्थ हैं। इस मामले में डीपीआई ने बलौदा बाजार के जिला पंचायत सीईओ के निर्देशित किया है कि वो तत्काल इन दो वर्ग-1 के शिक्षाकर्मियों को सस्पेंड करने का आदेश जारी करे और सभी के खिलाफ विभागीय जांच शुरू करें। वहीं महेश कुमार वर्मा सहायक शिक्षक एलबी को सस्पेंड करने का निर्देश डीईओ बलौदाबाजार को दिया गया है।

ये था पूरा मामला 

ज़िले के मरदा में छात्रा से छेड़छाड़ करते शिक्षक को देख आपत्ति दर्ज कराने वाले ग्रामीण तब स्तब्ध रह गए जबकि यह खुलासा हुआ कि, छात्राओं को पास करने या कि प्रैक्टिकल में नंबर बढ़ाने के ऐवज में शिक्षकों का समुह ही छात्राओं से शारीरिक बदसलूकी करता था। पुलिस ने कार्यवाही करते हुए जिन शिक्षकों को गिरफ़्तार किया है, उनमें प्रिंसिपल भी शामिल हैं। मामले का खुलासा कल दोपहर तब हुआ जब ग्रामीणों ने शिक्षक को छात्रा से छेड़खानी करते देख लिया और इस शिक्षक पर कार्यवाही करने की माँग लेकर स्कुल पहुँच गए। वहाँ हंगामा बढ़ा तो पुलिस मौके पर पहुँची जिसके बाद यह तथ्य सामने आया कि शारीरिक बदसलूकी का यह दौर लंबे अरसे से जारी था। पुलिस ने मामले में पॉस्को समेत 6 गंभीर धाराओं में अपराध दर्ज किया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *