दमोह। मध्यप्रदेश के दमोह जिले में हवस के अंधे ने दंरिदगी की इंतहा पार कर दी है। महज 7 साल की मासूम के साथ दुष्कर्म कर दरिंदे ने पहचान छिपाने के लिए बच्ची की आंखे फोड़ दी हैं। इस हैवानियत और दरिंदगी से भरी वारदात के बाद हद तो यह थी कि उस अज्ञात अत्याचारी ने उस मासूम की तकलीफ को नहीं देखा और उसका हाथ-पैर बांधकर खेत में फेंककर फरार हो गया।
वारदात से आक्रोशित परिजन और स्थानीय लोगों ने थाने के बाहर हंगामा किया है। आरोपी के बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं लग पाई है। बच्ची के दादा के मुताबिक दुकान से सामान लाने के लिए उन्होंने उसे 20 रुपए दिए थे, बच्ची सामान लाने गई लेकिन वो दरिंदगी का शिकार हो गई। बच्ची खेत में पड़ी मिली, उसके हाथ-पैर बंधे हुए थे और आंख से खून रिस रहा था। गंभीर हालत में बच्ची को अस्पताल पहुंचाया गया है। पुलिस आरोपी का पता लगाने में जुटी है।