दोहरे हत्याकांड की गुत्थी सुलझी… भाटापारा के निवासी थी मां-बेटी… राजधानी के माना इलाके में मिली थी दोनों की अधजली लाश… जानिए किसने दिया वारदात को अंजाम…?

रायपुर। राजधानी से सटे माना के सुनसान इलाके में दो अधजली लाश मिली थी। वारदात की सूचना पर माना पुलिस के साथ रायपुर के एसएसपी आरिफ शेख भी मौका मुआयना के लिए पहुंचे थे। महज 36 घंटे के भीतर इस दोहरे अंधेकत्ल की गुत्थी को सुलझाने में पुलिस ने सफलता हासिल कर ली है। वजह एसएसपी का मौके पर पहुंचना और उनके कडे़ निर्देश थे। इस मामले में महिला के प्रेमी को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी से पूछताछ का सिलसिला फिलहाल जारी है।
सोमवार सुबह माना के सुनसान इलाके में अधजली लाशों को देखकर हड़कंप मच गया। खबर फैलती ही माना बस्ती के ज्यादातर लोग हकीकत जानने के लिए वारदात की जगह पर पहुंचे, लेकिन जली हुई लाशों को देखकर हर किसी की रूंह कांप उठी। दरअसल दो जिंदा इंसानों को आग के हवाले कर दिया गया था। मौके पर मिली लाश इस बात की गवाही दे रहे थे कि मौत से पहले का दृश्य क्या रहा होगा, दोनों किस तरह तड़पी होंगी। बता दें कि जो दो लाशें मिली, उनमें एक महिला थी तो दूसरी किशोरी थी।
अनुमान के तहत उन्हें मां-बेटी कहा गया था, लेकिन आज वास्तविकता भी यही सामने आई। बताया जा रहा है कि मृतक महिला भाटापारा की निवासी थी। यहां पर कैसे आना हुआ, कहां रह रही थी, इन तमाम बातों की पतासाजी में पुलिस अभी भी जुटी हुई है। मामला प्रेम-प्रसंग से जुड़ा हुआ था। अभी तक जो बातें सामने आईं हैं, उसके मुताबिक महिला के प्रेमी ने इस वारदात को अंजाम दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *