धमतरी। स्वास्थ्य विभाग की विशेष राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत तैनात किए गए चिरायु के चिकित्सक एवं स्वास्थ्य कर्मी इन दिनों बेहद प्रभावशाली साबित हो रहे हैं। जिला मुख्यालय मैदानी स्तर पर क्वॉरेंटाइन सेंटर, कोरोना कंट्रोल रूम, एवं होम आइसोलेशन का कार्य कर रही है। प्रदेश में बाहर से आए लोगों की स्क्रीनिंग से लेकर निगरानी तक का कार्य चिरायु टीम के सदस्य कर रहे हैं।
ग्रामीण क्षेत्रों में होम आइसोलेशन पर भेजे गए लोगों की निगरानी और उन्हें दिशा-निर्देश देने का कार्य भी प्रभावपूर्ण तरीके से कर रहे हैं। जिसमे जिला धमतरी में स्थित क्वॉरेंटाइन सेंटरों में पथरीडीह (कुकरेल), केरेगाव, लाइवलीहुड कॉलेज, कुरूद में पंचायत प्रशिक्षण केंद्र में तीनों पाली में ड्यूटी कर रहे हैं।
बता दें कि वर्तमान में जिला धमतरी में 10 चिरायु टीम कार्यरत है। जिसमें प्रत्येक टीम में पुरुष आयुष चिकित्सक, महिला आयुष चिकित्सक, फार्मासिस्ट, स्वास्थ्य कार्यकर्ता और लैब टेक्नीशियन कार्य कर रहे हैं।