रायपुर। केंद्रीय वित्तराज्य मंत्री अनुराग ठाकुर आज सुबह राजधानी रायपुर पहुंचे, एयरपोर्ट पहुंचने पर बीजेपी युवामोर्चा के सदस्यों ने उनका जोरदार स्वागत किया। केंद्रीय मंत्री ने आज यहां कई कार्यक्रमों में भागीदारी की। अनुराग ठाकुर ने पूर्व सीएम रमन सिंह से उनके निवास जाकर मुलाकात की। इसके बाद वे युवा मोर्चा द्वारा ‘लक्ष्य एक पीढ़ी अनेक’ की थीम पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान मीडिया से चर्चा में अनुराग ठाकुर ने वित्त मामलों से जुड़े कई मुद्दों पर अपनी बेबाक राय रखी।

युवा मोर्चा के कार्यक्रम में रायपुर सांसद सुनील सोनी, दुर्ग सांसद विजय बघेल, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, पूर्व सांसद अभिषेक सिंह सहित बीेजेपी युवामोर्चा के पदाधिकारी मौजूद रहे। उन्होने कहा है कि छत्तीसगढ़ में मेरा अनुभव स्मरणीय रहा, देशभर के कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ bjym का नाम आगे रहा। कश्मीर तक के कार्यक्रम में यहां के युवा साथी शामिल हुए, लोगों को लगता था भाजपा सिर्फ एक देश एक विधान का नारा देती है। जिस विचार को लेकर वर्षो तक संघर्ष किया, लोगों को लगता था धारा 370 हट नहीं सकती लेकिन pm मोदी के साथ गृहमंत्री ने ऐसा छक्का लगाया कि 370 कब हट गई किसी को पता नहीं चल पाया, कई लोग सुन्न पड़ गए जो इसके बल पर राजनीति करते थे।

अनुराग ठाकुर ने कहा कि Pm मोदी और अमित शाह की जोड़ी ने ट्रिपल तलाक जैसे श्राप से मुक्ति दिलाई। योगी आदित्यनाथ रायपुर के राम मंदिर पहुंचे, यहां से लौट कर up के cm बन गए। 100 से अधिक साल से जिस फैसले से इंतज़ार कर रहे थे उसका फैसला हो गया। अब अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनेगा।

इसके पहले अनुराग ठाकुर ने प्रोफेशनल्स को संबोधित करते हुए कहा कि हर सेक्टर में अच्छे लोग हैं तो बुरे लोग भी हैं, टैक्स कलेक्शन में सीए का बहुत अहम रोल है। वे चाहें तो गलत नही हो सकता, जो भी पैसा टैक्स के रूप में आता है वे देश की जनता के लिए लगता है, किसी की जेब में नही जाता।

अनुराग ठाकुर ने कहा कि जीएसटी पर खुलकर चर्चा होनी चाहिए, जो जल्दी बदल जाएंगे उनको लाभ मिलेगा, जो अ​ब नही बदलेंगे उन्हे बड़ा नुकसान उठाना पड़ेगा। उन्होने कहा टैक्स के लंबित मामलों को 31 मार्च तक क्लोज किया जा सकता है। टैक्सपेयर चार्टर देश में लाने की तैयारी की जा रही है। जीएसटी कलेक्शन चार महीने से लगातार एक लाख करोड़ से ज्यादा रही है। साढ़े चार सौ करोड़ से ज्यादा बैंक रिकवरी हुई है, बैंको के समायोजन का अर्थव्यवस्था को लाभ मिला है।

उन्होने कहा कि मंहगाई दर मोदी सरकार के समय में काफी कम रही है, ये तमाम कदम भारत को 5 ट्रिलियन इकोनॉमी की ओर ले जा रहे हैं। दुनिया में कहीं भी जीएसटी को इतनी सफलता नही मिली है। वहीं यश बैंक में जगन्नाथ मंदिर के 545 करोड़ फंसने के मामले में केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री ने कहा कि किसी भी खाताधारी का पैसा नही डूबेगा, हम बैंक और खाताधारक दोनों को बचाने में लगे हैं, जिन्होने गलती की वे सलाखों के पीछे हैं। अभी यहां कई खुलासे होना बाकी है।