दिल्ली. नागरिकता संसोधन कानून के विरोध में दिल्ली के उत्तर पूर्वी हिस्से में हिंसा भड़क गई है इस हिंसा में अब तक 9 लोगों की जाने जा चुकी है हिंसा को काबू पान के लिए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने एक उच्च स्तरीय बैठक बुला कर तत्काल हिंसा को काबू करने का निर्देश दिया है.

दिल्ली में हुई आगजनी और पथराव की घटना में पुलिसकर्मी समेत अब तक 9 लोगों की जाने जा चुकी है, घटना की वजह से अब तक 48 पुलिसकर्मी और 90 आम नागरिक गंभीर रूप से घायल है

हिंसा की वजह से स्थानीय स्कूल, कॉलेज और पब्लिक ट्रांसपोर्ट भी बंद है .इस मामले को लेकर दिल्ली सीएम अरविंद्र केजरीवाल ने कहा कि जिस इलाके  में हिंसा भड़की हुई है वहा पुलिस बल की संख्या कम है. और सुरक्षा बल को आसू गैस और हवाई फायरिंग करने की भी अनुमति नहीं है. भड़की हिंसा को ख़त्म करने क लिए स्थानीय विधायक,धर्म प्रमुख को एक शांति बैठक रखने की अपील की है.

आज भड़की हिंसा में घायलों से मिलने अरविंद्र केजरीवाल जीटीबी अस्पताल पहुंचे अरिविंद्र केजरीवाल ने इस दौरान कहा की दिल्ली भड़की हिंसा देश केलिए चिंता का विषय है.

दिल्ली के खास इलाके खुजरी में जमा लोगों ने पुलिसकर्मी और पत्रकरों के साथ भी हिंसा किया बीबीसी के पत्रकार को हिसा के दौरान तस्वीर खीचने से भी माना किया गया इस दौरान निजी चैनल के पत्रकारों भी पत्थर बजी के शिकार हुए