Home Grand News मरे हुए मालिक के एटीएम से नौकरानी ने निकाले 35 लाख रुपए,...

मरे हुए मालिक के एटीएम से नौकरानी ने निकाले 35 लाख रुपए, ऐसे हासिल किया एकाउंट नंबर..

0
17

 

कोलकाता। मरे हुए मालिक के एटीएम से 71 दिनों में 35 लाख रुपए निकालने वाली नौकरानी आखिरकार दबोची गई। यह हैरान कर देने वाली खबर कोलकाता से सामने आई है। कोलकाता के पुलिस ऑफिसर इसे एक रेयर केस बता रहे हैं। दरअसल, 45 वर्षीय नौकरानी रीता रॉय ने दक्षिण कोलकाता के अनवर शाह रोड पर बने अप-मार्केट रेसिडेंशियल कॉम्प्लैक्स काम करती थी। उसने मृत मालिक सत्यनारायण अग्रवाल का एटीएम कार्ड चुरा लिया। सत्यनारायण का बैंक एकाउंट एक्सिस बैंक में था। अग्रवाल क्योंकि अक्सर पिन भूल जाते थे इसलिए उनके बेटे अनुराग ने मैसेज टाइप कर उनके फोन के इनबॉक्स में भेज दिया था। ज्वाइंट कमिश्नर ऑफ पुलिस (क्राइम) मुरलीधर शर्मा ने कहा कि नौकरानी ने फोन से पिन को हासिल कर लिया था।

नौकरानी ने अपने नादिया जिले के करीमपुर के रहने वाले 31 वर्षीय दामाद रणजीत मलिक और हुगली जिले के बालागढ़ के रहने वाले 45 वर्षीय सौमित्र सरकार को पैसे निकालने के लिए ये एटीएम दे दिए। बेटे अनुराग अग्रवाल को जब पैसे की चोरी का पता चला उसने जाधवपुर पुलिस थाने में 1 जून को शिकायत दर्ज कराई। केस लाल बाजार पुलिस हेडक्वार्टर में डिटेक्टिव डिपार्टमेंट को दिया गया। यस बैंक के रिकॉर्ड से पता चला कि 20 मार्च से लेकर 30 मई के दौरान कई एटीएम से पैसे निकाले गए। ये सभी एटीएम मशीन नादिया के करीमपुर, कृष्णानगर और रानाघाट और हुगली के गुप्तीपारा में थी।

 

एटीएम मशीन के अंदर लगे सिक्योरिटी कैमरे की फुटेज में चोर मास्क और टोपी पहने हुए दिख रहे थे। चोर कोविड-19 का फायदा ले रहे थे। जब जांच करने वालों के लिए चेहरे की पहचान मुश्किल हुई तो डिटेक्टिव्स की तरफ से स्थानीय लोगों के साथ पूछताछ शुरू की गई और 13 अगस्त को रणजीत मलिक और सौमित्र सरकार पकड़ा गया। इसके साथ ही, नौकरानी रीता रॉय को नादिया जिले के नाकाशिपारा इलाके से उसी दिन उसके घर से गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने 27 लाख रुपये उसके घर से बरामद किया। शर्मा ने बताया कि वे सभी 25 अगस्त तक पुलिस हिरासत में रहेंगे।