समुद्र तट से टकराया तूफान तौकते
समुद्र तट से टकराया तूफान तौकते

एक तरफ हिंदुस्तान कोरोना से लड़ रहा है वहीं दूसरी तरफ एक अनजाना खतरा भारत की ओऱ बढ़ रहा है ।  इस खतरे को भांपते हुए भारत सरकार ने बचाव के कई प्रबंध भी किए है। ये खतरा है अरब सागर में आ रहे तूफान तौकते का।  भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, चक्रवात तौकते के 18 मई की सुबह गुजरात तट को पार करते हुए भयानक तूफान के रुप में  उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा।जिसके बाद तटीय मछुआरे के लिए अलर्ट जारी किया गया है।

कोविड की दूसरी लहर के बीच तूफान

चक्रवात ऐसे समय में आया है जब भारत कोविड -19 महामारी की दूसरी लहर से जूझ रहा है।चक्रवाती तूफान ने भी देश की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। पहले से तैयारी करते हुए देश में केरल, गुजरात समेत देश के पांच राज्यों में बचाव दल की 50 से ज्यादा टीमें तैनात की गई हैं। बता दें कि छह राज्यों के चक्रवाती तूफान से प्रभावित होने की संभावना है – केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, गुजरात, महाराष्ट्र और गोवा। इन राज्यों में 100 से अधिक बचाव दल तैनात किए गए हैं।

-आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने कहा, “अफवाहों पर ध्यान न दें, शांत रहें और घबराएं नहीं।

-लोगों को कनेक्टिविटी दुरुस्त रखने के लिए मोबाइल फोन चार्ज रखने के निर्देश दिए गए हैं।

-NDMA ने जलरोधक कंटेनरों में दस्तावेज और कीमती सामान रखने के साथ आपतकालीन किट तैयार रखने को कहा है।

Be Smart Be Prepared!#Cyclone Do’s and Dont’s #cyclonetauktae pic.twitter.com/EErSECQbje

— NDMA India | राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण 🇮🇳 (@ndmaindia) May 13, 2021


गोवा में सरकार ने चक्रवात के मद्देनजर आवश्यक कदम उठाए हैं।आईएमडी के अनुसार चक्रवात के चलते कोंकण और गोवा में 15 और 16 मई को भारी से अत्यंत भारी बारिश हो सकती है।उधर, तमिलनाडु सरकार ने शनिवार को चक्रवात तौकते को लेकर अधिकारियों को सतर्क रहने को कहा है।<br>मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने अधिकारियों को बांधों में जलस्तर की निगरानी रखने और लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। केरल से सटे कन्याकुमारी जिले, तिरुनेलवेली और पश्चिमी घाट क्षेत्र के कुछ जिलों में शनिवार को वर्षा हुई।<br>स्टालिन ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने के दौरान कोविड-19 बचाव नियमों का पालन सुनिश्चित किया जाए।</p>

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

छत्तीसगढ़ के किसानों का कंडेल नहर सत्याग्रह सविनय अवज्ञा आंदोलन का सबसे अच्छा उदाहरण:  भूपेश बघेल

  रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के प्रथम…

AYODHYA :बाबर के नाम पर बनेगी मस्जिद और सीएम योगी आएंगे शिलान्यास पर.. जानिए इस खबर का पूरा सच ?

सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने हाल ही में इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन…

BREAKING : मुख्यमंत्री ने कर लिया तय… सबसे पहले वैक्सीन किन्हें लगेगा… बनाई जा रही है योजना

मध्यप्रदेश सरकार ने कोरोना टीकाकरण की तैयारी कर ली है। फिलहाल ये…

POLITICS : आज शाम पुनिया पहुंचेगे राजधानी… निगम-मंडल पर होगी चर्चा… जल्द आएगी दूसरी लिस्ट

रायपुर। छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया आज शाम राजधानी पहुंच रहे…