BREAKING NEWS: CBSE की 12 वीं बोर्ड परीक्षा के फैसले पर लगा ग्रहण, पढ़िए क्या है इसके पीछे वजह
BREAKING NEWS: CBSE की 12 वीं बोर्ड परीक्षा के फैसले पर लगा ग्रहण, पढ़िए क्या है इसके पीछे वजह
BREAKING NEWS: CBSE की 12 वीं बोर्ड परीक्षा के फैसले पर लगा ग्रहण, पढ़िए क्या है इसके पीछे वजह
BREAKING NEWS: CBSE की 12 वीं बोर्ड परीक्षा के फैसले पर लगा ग्रहण, पढ़िए क्या है इसके पीछे वजह

सीबीएसई की 12वीं की बोर्ड परीक्षा को लेकर आज फैसला आना मुश्किल है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक (Ramesh Pokhriyal Nishank) की तबीयत बिगड़ गई है. कोरोना वायरस के संक्रमण से उबरने के बाद आज उनकी तबीयत खराब हो गई, जिसके कारण उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया है. बता दें कि केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में 23 मई को हाईलेवल मीटिंग का आयोजन किया गया था. इस मीटिंग में केंद्रीय शिक्षा मंत्री और राज्यों के शिक्षा मंत्रियों और शिक्षा मंत्रालय से जुड़े अन्य अधिकारियों ने भाग लिया था. बता दें कि राज्यों ने 12वीं की परीक्षा को लेकर अपने सुझाव केंद्र को भेज दिए हैं. कई राज्य सीबीएसई द्वारा दिए गए ऑप्शन मल्टीपल प्रश्नों वाली परीक्षा के पक्ष में है. वहीं कुछ राज्यों ने परीक्षा से पहले छात्रों को वैक्सीन लगाए जाने की वकालत की है.

12वीं बोर्ड परीक्षा एक्सपर्ट ने दिए ये सुझाव

12वीं बोर्ड परीक्षा पर हमने सेठ आनंदराम जयपुरिया स्कूल वसुंधरा, गाज़ियाबाद की प्रिंसिपल मंजू राणा से उनकी राय जानी. उन्होंने TV9 भारतवर्ष से बातचीत में कहा, ”मुझे नहीं लगता कि बारहवीं की बोर्ड परीक्षा रद्द करना उचित होगा. हम शिक्षा और स्वास्थ्य मंत्रालय से परीक्षा आयोजित करने के व्यावहारिक समाधान की अपेक्षा करते हैं. साथ ही, विद्यार्थियों और शिक्षकों दोनों की सुरक्षा को सुनिश्चित करना होगा. ऐसे में एक विकल्प प्रश्न पत्र को 90 मिनट के एमसीक्यू (बहुविकल्प प्रश्न) प्रारूप में विभाजित करने का हो सकता है. परीक्षा 2 या 3 चरणों में आयोजित की जा सकती है. इसका निर्णय जल्दी लेना होगा. बारहवीं की बोर्ड परीक्षाओं में विलंब होने से विद्यार्थियों के भारत के अंदर और विदेशों के विश्वविद्यालयों में प्रवेश पाने में कठिनाई होगी.”

छत्तीसगढ़ बोर्ड की 12वीं की परीक्षाएं शुरू

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Chhatisgarh Board of Secondary Education) की 12वीं की परीक्षाएं आज से शुरू हो गई हैं. छात्र अपने घरों से बोर्ड परीक्षाओं में शामिल हो रहे हैं. छात्रों को प्रश्न पत्र और उत्तर पुस्तिकाएं दी गई हैं और उन्हें पांच दिनों के भीतर उत्तर पुस्तिकाएं जमा करनी होंगी. उदाहरण के लिए, यदि छात्रों को आज प्रश्न पत्र मिलता है, तो वे 6 जून तक अपने-अपने स्कूलों में उत्तर जमा करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like

BIG NEWS : मंत्रिपरिषद की बैठक में पीएम मोदी की नसीहत, अपने क्षेत्रों में नजर और संपर्क बनाए रखें मंत्री

नई दिल्ली।  कोरोना के बढ़ते प्रकोप और राजनीतिक हमलों के बीच प्रधानमंत्री…

जूनियर डॉक्टर्स राज्यपाल को लिख रहे है पत्र, ड्यूटी के दौरान मृत्यु होने पर मांगा शहीद का दर्जा, प्रशासन पर लगाए गंभीर आरोप

  रायपुर स्थित जवाहर लाल नेहरु मेडिकल कॉलेज के रेजिडेंट डॉक्टरों ने…

वित्त मंत्रालय : केंद्र सरकार ने राज्यों को जारी की GST क्षतिपूर्ति राशि की 13 वीं किस्त

केंद्र सरकार ने सोमवार को जीएसटी क्षतिपूर्ति राशि की 13वीं किस्त के…

अवंति विहार गणेश मंदिर में महाआरती की गई, भक्तों ने कहा-किसी भी कीमत पर नहीं होने देंगे तोड़-फोड़

  रायपुर। अवंति विहार व्यापारी संघ द्वारा आज सृष्टि पार्क के नागरिकों…