शतरंज की बिसात पर सबसे अहम होता है सामने वाले खिलाड़ी की अगली चालों को भांप कर अपनी चाल चलना । आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने चेस में चेकमेट के ऐसे ही टिप्स एक दूसरे के खिलाफ शतरंज की बाजी खेल रहे चेस के नन्हे खिलाड़ी दो भाई प्रियांश तिवारी और मानस तिवारी को दिए। अपनी अगली चाल सोचने में तल्लीन दोनों बच्चों के पास पहुंचते ही मुख्यमंत्री ने मानस से कहा- आप तो मुझे देखने लगे, आपका ऊँठ तो गया !

मुख्यमंत्री के शब्द सुनते ही बच्चों सहित उपस्थित सभी लोगों के चेहरे पर मुस्कान आ गयी। मुख्यमंत्री ने मानस- प्रियांश और पास ही शतरंज खेल रहे अवनी जेना और अदनान के खेल का जायज़ा लिया। मुख्यमंत्री ने गौर से सामने बिछी बिसात को कुछ पल ठहरकर देखा और प्रियांश को अपना वजीर आगे चलने की सलाह दी। मुख्यमंत्री को बताया गया कि ये चारों बच्चे चेस के स्टेट खिलाड़ी है। उन्होंने ने बच्चों को खूब शाबाशी देते हुए उनकी हौसलाअफजाई की।