जगदलपुर / नगरपालिक निगम जगदलपुर के आयुक्त प्रेम कुमार पटेल का तबादला हो गया है उनका तबादला ऐसे वक्त में हुआ जब वे स्वच्छता को लेकर ताबाड़तोड़ काम कर रहे थे दलपत सागर, और कोराना काल में किए गए उनके प्रयासों को जगदलपुर वासी याद रखेंगें। ये उनकी प्रयासों का नतीजा ही है कि शहर मेें जगह-जगह कचरे के डिब्बे नजर आ रहें है और शहर को स्वच्छ रखने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है। यहां यह उल्लेखनीय हो जाता है कि वे स्थानीय शहीद पार्क के सामने चित्रकोट जलप्रपात के मॉडल को चालू करने का प्रयास कर रहे थे मगर चालू नहीं करा सके, अब इसे चालू कराने की एक बडी जिम्मेदारी नए निगम आयुक्त के कंघो पर आ गई है । गौरतलब बात यह है कि इससे पहले भी कुछ निगर आयुक्तों ने भी इसे विधिवत चालू करने का प्रयास किया मगर वे सफल नहीं हो सके ।
जगदलपुर में पर्यटन को बढ़ावा देने की गरज से शहीद पार्क के सामने एक चित्रकोट जलप्रपात का मॉडल तैयार किया गया था। फिलहाल इसे निर्माणाधीन ही कहा जा सकता है। निगम प्रशासन के पास कई आयुक्त अपने अपने स्तर पर सभी ने काम किया मगर क्यों इस मॉडल जलप्रपात को वे चालू नहीं करा सके ये बड़ा अहम सवाल जगदलपुर शहर के लोगों में उठ रहा है। इस दिशा प्रेम कुमार पटेल के कार्यकाल में इस माडल के आसपास रंगरोजन और साफ सफाई तक ही प्रगति हुई । अब देखना यह है कि नए आयुक्त क्या इस दिशा में उनका अधूरा काम पूरा कर पाएंगे ? यह भी निगम प्रशासन की उदासीनता का भेंट चढ़ जाएगा। अगर यह मॉडल तैयार हो जाता है तो जगदलपुर में एक और दर्शनीय स्थल बन जाएगा जिसे देखने के बाद चित्रकोट जाने की जरूरत नहीं होगी।