CG NEWS : प्रसव पीड़ा से तड़प रही थी प्रेग्नेंट महिला, RPF की टीम ने रेलवे स्टेशन में कराई डिलीवरी, खूब हो रही चर्चा

CG NEWS : प्रसव पीड़ा से तड़प रही थी प्रेग्नेंट महिला, RPF की टीम ने रेलवे स्टेशन में कराई डिलीवरी, खूब हो रही चर्चा
 

 

बिलासपुर। CG NEWS जिले में RPF की टीम का मानवीय चेहरा सामने आया है। गुरुवार की रात महिला आरक्षकों ने रेलवे स्टेशन में प्रसव पीड़ा से तड़प रही प्रेग्नेंट महिला का न सिर्फ सुरक्षित प्रसव कराया। बल्कि, नवजात के जन्म होने के बाद मां और बच्चे को इलाज के लिए CIMS में भर्ती भी कराया। घटना गतौरा रेलवे स्टेशन की है और महिला UP की रहने वाली बताई जा रही है। वहीँ इस वारदात के बाद से पुलिस कर्मियों की खूब चर्चा हो रही है।

 

ALSO READ : भालू के हमले से महिला की मौत, इलाके में दहशत

 

बिलासपुर रेलवे स्टेशन के रायगढ़ रूट का पहले स्टॉपेज गतौरा रेलवे स्टेशन है। यहां RPF के हेड कॉन्स्टेबल वीएन सेन गुरुवार रात करीब 11.30 बजे ड्यूटी पर थे। इस दौरान उन्हें पता चला कि प्लेटफार्म में एक प्रेग्नेंट महिला दर्द से तड़प रही है। जानकारी मिलते ही उन्होंने महतारी एक्सप्रेस को कॉल किया। इसके साथ ही RPF पोस्ट प्रभारी भास्कर सोनी को सूचना दी।

 

CG NEWS : प्रसव पीड़ा से तड़प रही थी प्रेग्नेंट महिला, RPF की टीम ने रेलवे स्टेशन में कराई डिलीवरी, खूब हो रही चर्चा
 

 

महिला आरक्षकों ने कराया प्रसव

इस घटना की गंभीरता को देखते हुए RPF पोस्ट प्रभारी भास्कर सोनी ने मानवता दिखाते हुए शासकीय गाड़ी से तत्काल सब इंस्पेक्टर मनीष कुमार, महिला आरक्षक सोनिया साहु, नेहा, गजेन्द्र एवं शिवा को गतौरा भेजा। महिला आरक्षकों की टीम 11.55 बजे स्टेशन पहुंच गईं। इस दौरान उन्होंने स्टेशन के पास रहने वाली विमला नाम की महिला और उनकी बेटी सुमन से मदद मांगी। उनकी मदद से आरक्षक सोनिया और नेहा ने हिम्मत जुटा कर महिला का प्रसव कराया, जिसमें उन्हें सफलता भी मिल गई और महिला ने नवजात बच्ची को जन्म दिया।

 

 महतारी एक्सप्रेस के लेट होने से लिया डिलीवरी कराने का फैसला

RPF की टीम ने प्रसव पीड़ा से तड़प रही महिला को देखकर पहले महतारी एक्सप्रेस को कॉल किया। इस बीच बिलासपुर से RPF की महिला आरक्षकों की टीम गतौरा पहुंच गई। लेकिन, महतारी एक्सप्रेस नहीं पहुंची थी। महिला की तकलीफ को देखते हुए महिला आरक्षकों ने उसकी डिलीवरी कराने का फैसला लिया। डिलीवरी होने के बाद महतारी एक्सप्रेस वहां पहुंची, तब महिला व उसके नवजात शिशु को इलाज के लिए CIMS में भर्ती कराया गया।

 

UP की रहने वाली है महिला 

CIMS के डाक्टर ने महिला को चेक किया। इस दौरान महिला व उसकी बच्ची स्वस्थ हैं। सुरक्षा के लिहाज से उन्हें CIMS में भर्ती कराया गया है। इधर, RPF ने जानकारी जुटाई, तब पता चला कि महिला का नाम फूलजहां पिता नजर मोहम्मद (32) है। वह उत्तरप्रदेश के गोंडा जिला इतियाथोक की रहने वाली है। वह उत्तरप्रदेश से बिलासपुर और फिर गतौरा कैसे पहुंची। इसकी जानकारी किसी को नहीं है। महिला के पास कोई रेलवे टिकट भी नहीं था। RPF की टीम महिला के परिजनों की जानकारी जुटा रही है