दिल्ली( Delhi) और बेंगलुरू एयरपोर्ट ने घरेलू यात्रियों के फेशियल रिकग्निशन (FR) के लिए एक ऐप ‘डिजियात्रा’ लॉन्च किया है। इस ऐप के लॉन्च होने से अब यात्रियों( passenger) को एयरपोर्ट पर एंट्री में होने वाली परेशानियों से निजात मिलेगी।

Read more :Flight Tickets : सस्ते हो सकते है हवाई टिकट, सरकार हटाएगी कैप, अब एयरलाइन अपने हिसाब से तय कर सकेंगी कीमतें

वहीं बेंगलुरू इंटरनेशनल एयरपोर्ट( international airport) लिमिटेड (BIAL) ने एक बयान में बताया कि इस ऐप के बीटा वर्जन को विस्तारा और एयर एशिया की उड़ानों में टेस्ट किया गया है। डिजियात्रा ऐप का बीटा वर्जन एंड्रॉयड ओएस के लिए प्लेस्टोर पर उपलब्ध है। अगले कुछ सप्ताह के दौरान यह ऐप एप्पल के IOS प्लेटफॉर्म पर भी उपलब्ध हो जाएगा। अभी डिजियात्रा ऐप का इस्तेमाल करना अनिवार्य नहीं किया गया है।

चेहरे की पहचान के आधार पर सभी चेकप्वाइंट ( checkpoint) 

दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड के अनुसार इस ऐप की मदद से चेहरे की पहचान के आधार पर सभी चेकप्वाइंट पर यात्रियों की एंट्री होगी। एयरपोर्ट की एंट्री, सिक्योरिटी चेक और बोर्डिंग गेट तीनों जगहों पर ऐप से ही काम हो जाएगा।

क्या है फेशियल रिकग्निशन सिस्टम?

ये बायोमेट्रिक सिस्टम है जो व्यक्ति की पहचान उसके चेहरे, आंखों, मुंह के कॉम्बिनेशन से करती है। इसमें चेहरे के सभी एलिमेंट खासकर आंखें और मुंह को रीड किया जाता है। फिर पहचान के लिए चेहरे की 3D इमेज बनाकर डेटाबेस में सेव की जाती है। इस तकनीक का आविष्कार अमेरिकी वैज्ञानिकों की टीम ने किया था।