देश के मुख्य न्यायाधीश( CJI) के रूप में जस्टिस यूयू ललित( justice lalit) आज से कार्यभार संभालेंगे। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू उन्हें मुख्य न्यायाधीश पद की शपथ दिलाएंगी।

Read more :Supreme Court News: Justice UU Lalit हो सकते हैं देश के अगले चीफ जस्टिस, CJI रमणा ने की नाम की सिफारिश, जानिए उनके बारें में 

शपथ ग्रहण से पहले निवर्तमान मुख्य न्यायाधीश सीजेआई( CJI) एनवी रमण के विदाई समारोह में उन्होंने तीन मुख्य सुधारों के बारे में बात की। जस्टिस यूयू ललित ने कहा, मेरा प्रयास रहेगा मामलों को सूचीबद्ध करने में पारदर्शिता हो। ऐसी व्यवस्था बना सकूं, जिसमें जरूरी मामले संबंधित पीठों के सामने स्वतंत्रता पूर्वक उठाए जा सकें।

न्यायिक प्रक्रिया से जुड़ी हैं चार पीढ़ियां 

भारत के 49वें मुख्य न्यायाधीश बनने जा रहे जस्टिस यूयू ललित पर भले ही न्यायाधीशों की नियुक्ति से लेकर महत्वपूर्ण संवैधानिक प्रश्नों जैसी चुनौतियां हों, लेकिन उनकी न्यायिक विरासत का अनुभव भी उनके पास होगा। दरअसल, चार पीढ़ियों से यूयू ललित का परिवार न्यायिक प्रक्रिया से जुड़ा हुआ है। जस्टिस ललित के दादा रंगनाथ ललित आजादी से पहले सोलापुर में एक वकील थे।