बस्तर का नियाग्रा कहे जाने वाले चित्रकूट में आज दोपहर को बाजार में घूम घूम कर सोने चांदी का व्यापार करने वाले व्यापारी ने दोपहर 12 बजे वहां के शिव मंदिर में दर्शन करने के बाद छलांग लगा दी, घटना की जानकारी लगते ही लोहंडीगुड़ा पुलिस के साथ ही एसडीआरएफ की टीम लगातार व्यापारी की तलाश में जुट गई है,

मामले के बारे में जानकारी देते हुए लोहंडीगुड़ा थाना प्रभारी टामेश्वर चौहान ने बताया कि कोंडागांव में रहने वाले विकास दुग्गड़ 35 वर्ष जो अपनी कार में सवार होकर लोहंडीगुड़ा के मुंडागाव में व्यापार करने के लिए आया हुआ था, वहां से अपने ड्राइवर को चित्रकूट घूमने जाने की इच्छा जताई, जहां पहुँचने के बाद उसने अपने ड्राइवर के साथ शिव मंदिर में दर्शन करने के बाद ड्राइवर को कार में बैठने की बात कहते हुए प्रपात के पास लगे फेंसिंग तारों को पार करके जलप्रपात के ऊपर जाकर दोपहर 12 बजे छलांग लगा दिया, वही आस पास के लोगों ने शोर शराबा किया, ड्राइवर भी मौके पर पहुँच परिजनों को फोन के माध्यम से जानकारी दिया, परिजन भी मौके पर पहुँचे और पुलिस को बताया कि विगत कुछ माह से विकास डिपरेशन में चल रहा था, जिसके बाद से परिजन लगातार उसका इलाज भी करा रहे थे, लेकिन आज अचानक इस तरह से बाजार के नाम पर यहां आना और छलांग लगा देने से परिजन भी परेशान हो गए है, वही 2 दिनों से लगातार हो रहे बारिश की वजह से पानी का बहाव तेज हो गया है, जिसके कारण युवक के बारे में अब तक कोई जानकारी नही मिल पाई है, फिलहाल एसडीआरएफ की टीम लगातार खोजबीन कर रही है,