रायपुर। BIG NEWS : राज्य के अब तक के सबसे बड़े ट्रक चोरी के मामले का भंडाफोड़ हुआ है। चोरी के ट्रक को खरीदने बेचने वाले गिरोह का पर्दाफाश पुलिस ने किया है। धोखाधड़ी कर लीज पर लिये गये ट्रकों और चोरी के ट्रकों का फर्जी दस्तावेज तैयार कर ट्रक की खरीदी बिक्री करने वाले अंतर्राज्यीय गिरोह को एंटी सायबर की टीम और रायपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया है।
 खरीदी बिक्री करने वाले अंतर्राज्यीय गिरोह के 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों ने नागालैण्ड, अरूणाचल प्रदेश, बिहार, उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों के परिवहन विभाग के आर.टी.ओ. एजेंट से मिली भगत कर  फर्जी दस्तावेज तैयार करते थे और ट्रकों को लीज पर लेकर उनका फर्जी दस्तावेज तैयार करते थे। यही नही आरोपी ट्रक को काट-फिट और डेटिंग पेटिंग कर, चेचीस नम्बर बदलकर बेचने का काम करते थे। साइबर क्राईम की टीम ने अलग अलग राज्यों में छापेमारी व पता तलाश कर आरोपी  उपेन्द्र शर्मा , अशोक अग्रवाल, शाहबुद्दीन अहमद, राजेष यदु, नारायण दास रोहरा, और सत्येन्द्र कुमार को गिरफ्तार किया गया है।आरोपियों से 20 से अधिक ट्रकों को बरामद किया गया है। जप्त ट्रकों की कीमत 5 करोड़ रूपये से भी अधिक है। मामलें में इस प्रकार 250 से भी अधिक वाहनों को फर्जी तरिके से बेचे जाने की जानकारी मिल रही है। इस मामले में संलिप्त अन्य फरार आरोपियों की पतासाजी की जा रही है।