नई दिल्ली। BIG BREAKING : इंडोनेशिया में सोमवार को आए भूकंप (earthquake in indonesia) में 46 लोगों की मौत हो गई। 700 से ज्यादा लोग घायल हैं। राजधानी जकार्ता समेत आसपास के इलाकों में लोग दहशत में बाहर निकल आए। इमारतों को खाली करवा दिया गया है।

 

ALSO READ : CG BREAKING : नदी में नहाने के दौरान डूबा भारतीय स्टेट बैंक का कर्मचारी, हुई मौत, तीन महीने पहले की थी शादी 

 

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, भूकंप की तीव्रता 5.6 थी और इसका सेंटर जावा के सियांजुर में था। एक अधिकारी ने बताया कि एक ही अस्पताल में 20 लोगों की मौत हुई है। इससे आशंका जाहिर की जा रही है कि मरने वालों का आंकड़ा बढ़ सकता है।

 

 

इमारतें खाली कराई गईं, आफ्टर शॉक्स की आशंका

सोशल मीडिया पर भूकंप के कुछ वीडियो शेयर किए जा रहे हैं। इनमें टूटी हुई इमारतें, मलबा और क्षतिग्रस्त कारें नजर आ रही हैं। एक अफसर ने कहा- हम लोगों से अपील करते हैं कि वो फिलहाल अपनी इमारतों से बाहर रहें, क्योंकि आफ्टर शॉक्स की आशंका है। राजधानी जकार्ता में एम्बुलेंस के सायरन लगातार सुनाई दे रहे हैं। इंडोनेशिया सरकार की क्विक रिस्पॉन्स टीम हालात पर नजर रख रही है।

 

 

सियांजुर जिले के स्थानीय अधिकारियों ने कहा कि घरों सहित दर्जनों इमारतें क्षतिग्रस्त हो गईं. ग्रेटर जकार्ता क्षेत्र में भूकंप के जोरदार झटके महसूस किए गए. राजधानी में गगनचुंबी इमारतें तीन मिनट से अधिक समय तक हिलती रहीं और कुछ को खाली करा लिया गया.

 

ALSO READ : CG ACCIDENT NEWS : पेड़ से टकराई तेज रफ्तार कार, हादसे में बैंक मैनेजर समेत 2 लोगों की मौत, छुट्टी मनाकर लौट रहे थे घर

 

दक्षिण जकार्ता में एक कर्मचारी विडी प्रिमाधनिया ने कहा, “भूकंप इतना तेज महसूस हुआ…मेरे सहयोगियों और मैंने नौवीं मंजिल पर आपातकालीन सीढ़ियों के साथ हमारे कार्यालय से बाहर निकलने का फैसला किया.” रॉयटर्स के मुताबिक, कुछ लोगों ने जकार्ता के केंद्रीय व्यापार जिले में कार्यालयों को खाली कर दिया, जबकि अन्य लोगों ने इमारतों को हिलते हुए महसूस किया और फर्नीचर को हिलते हुए देखा।