CRIME NEWS : दुर्ग।  पुलिस ने सुने मकानों में चोरी करने से पहले घूम-घूम कर रेकी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर 7 आरोपी सहित एक नाबालिक को पुलिस ने गिरफ्तार किया, पुलिस को इनके पास से सोना, चांदी, सिक्के, इलेक्ट्रॉनिक सामान, हेयर ड्रायर, एलइडी टीवी, ब्यूटी पार्लर किट ,कैंची साड़ियां, सलवार सूट बरामद किया है जिसकी कीमत 8 लाख बताई जाती है, इन चोरों को पकड़ने में सीसीटीवी फूटेज की अहम भूमिका रही, पकड़े गए आरोपियों ने बताया कि चोरी के पैसों से वह गांजा, जुआ खेलते थे।

एसपी डॉ.अभिषेक पल्लव ने बताया कि सुपेला, वैशाली नगर, स्मृतिनगर थाना क्षेत्र के सुने मकानों में लगातार चार चोरियां हुई। पुलिस ने जब सीसीटीव फुटेज खंगाला तो तीन संदेहियों फुटेज मिले। जिसके बाद पुलिस ने इन आरोपियों की तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल किया। इसी बीच मुखबीरों से तीन आरोपी सुपेला इंद्रा नगर निवासी शाहिल खान, तुकेश्वर ठाकुर और 1 नाबालिग लड़के के रूप में सुनिश्चित हुई। पुलिस ने घेराबंदी करके सुपेला क्षेत्र से तीनों को पकड़ा। पहले तो तीनों पूछताछ में पुलिस को गुमराह किया बाद में अपना जुर्म स्वीकार कर लिया। घटना के संबंध में अपने दोस्त गुलाम खान, महेष यादव के साथ पांचों ने मिलकर सुपेला, वैशाली नगर, स्मृति नगर क्षेत्र के 4 सूने मकानों में अलग-अलग समय पर रेकी करके नकबजनी की घटना को अंजाम देना स्वीकार किया।पकड़े गए आरोपियों ने बताया कि चोरी किए गए गहनों को बाजार अतरीया खैरागढ़ निवासी धर्मेंद्र वर्मा के माध्यम से आरोपियों ने सालेखुर्द धमधा निवासी गैंदराम जंघेल को बेचा था। आरोपियों के बताए अनुसार धर्मेंद्र वर्मा, गैंदराम जंघेल को हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर धर्मेंद्र वर्मा ने आरोपियों के द्वारा लाए गए सोने-चांदी के जेवरातों को अपने रिश्तेदार ज्वेलरी शॉप में काम करने वाले गैंदराम जंघेल के परिचीत सोना गलाई का काम करने वाले मानस जेनाके पास बिकवाना बताया।जिससे मानस जेना के कब्जे से सोने-चांदी के जेवरात बरामद किया गया। साथ ही कुछ जेवरात आरोपियों ने छिपाकर रखे थे। उनकी निशानदेही पर बरामद कर जप्त किया गया। इस अवसर पर एसपी ने आम जनता से की अपील घर से कभी भी बाहर जाएं तो घर को अच्छे से लॉक करें थाने में सूचना दें इसके अलावा अपने अपने घरों के पास सीसीटीवी कैमरे जरूर लगाएं।