Fierce fire in textile factory : मध्य चीन के हेनान प्रांत के कपड़ा फैक्ट्री में भीषण आग लग गई है, इस हादसे में 38 लोगों की मौत हो गई. आग सोमवार को हेनान के वेनफेंग जिले में लगी. आग को बुझाने में दमकलकर्मियों को चार घंटे से अधिक समय लगा. इस घटना में 38 लोगों की मौत हो गई जबकि दो गंभीर रूप से झुलस गए. घायलों को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है.

इन्हें भी पढ़े : Rozgar Mela : सरकारी नौकरी देने के लिए मिशन मोड में PM Modi, बांटे 71 हजार से ज्यादा नियुक्ति पत्र

स्थानीय प्रशासन ने इस घटना के लिए कंपनी को ही जिम्मेदार ठहराया है, जो नियमों को ताक पर रखकर यहां मुख्य रूप से कपड़ों की मैन्युफैक्चरिंग कर रही थी. चीन की सरकारी समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, इस घटना में 38 लोगों की मौत हो गई और दो लोग झुलस गए. घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

अधिकारियों का कहना है कि दमकलकर्मियों ने सोमवार रात लगभग 11 बजे आग पर काबू पाया. म्यूनिसिपल इमरजेंसी मैनेजमेंट विभाग का कहना है कि शुरुआती जांच से पता चला है कि वेल्डिंग ऑपरेशंस में स्पार्क से यह आग लगी, जिससे कॉटन फैब्रिक की इस पूरी फैक्ट्री में आग लग गई.

इन्हें भी पढ़े : Sanitary Pads Harmful : सावधान, सैनिटरी पैड के इस्तेमाल से कैंसर का खतरा? नई स्टडी में चौंकाने वाला खुलासा

कुछ संदिग्ध लोगो को पुलिस ने गिरफ्तार कर ली है. चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने इस आग में झुलसे घायलों के इलाज के हरसंभव प्रयास करने का आह्वान किया है. इस घटना के जिम्मेदार लोगों को कटघरे में खड़ा करने की बात कही है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, आग की सूचना मिलने के बाद स्थानीय दमकल विभाग ने 63 वाहनों और 240 दमकलकर्मियों को बचाव अभियान के लिए भेजा.

पुलिस ने कुछ संदिग्धों को भी हिरासत में लिया है. चीन में बढ़ती प्रतिस्पर्धा और भ्रष्टाचार की वजह से सुरक्षा संबंधी उपायों में कोताही बरते जाने से औद्योगिक इकाइयों में आग लगने की घटनाएं बढ़ गई हैं.