IND vs NZ T20 Series : इंडिया के टी20 धमाकेदार बैट्समैन संजू सैमसन (Sanju Samson) को न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए टी20 सीरीज में एक भी मुकाबला मौका नहीं मिला. संजू की जगह ऋषभ पंत (Rishabh panth) जैसे प्लेयर को टीम में जगह मिली. इसे लेकर  टीम इंडिया के कप्तान हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) ने अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि बाहर कौन क्या कह रहा उससे उनको फर्क नहीं पड़ने वाला है.

इन्हें भी पढ़े : IND vs NZ 3rd T20: बारिश के चलते रद्द हुआ मैच, इंडिया ने 1-0 से जीती सीरीज

न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में इंडिया ने 1-0 से शानदार जीत हासिल की है. इस टी20 सीरीज में संजू सैमसन और उमरान मलिक जैसे स्टार खिलाड़ियों के प्लेइंग इलेवन में होने की उम्मीद थी. लेकिन दोनों ही मुकाबलों में उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला. जिससे अब सैमसन को प्लेइंग-11 (Playing11) में नहीं शामिल करने को लेकर कई सवाल खड़े हो रहे हैं.

IND vs NZ T20 Series : मैं ज्यादा बदलाव नहीं करता : Hardik

Hardik Pandya ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘पहली बात तो बाहर कौन क्या बोल रहा है उससे ये लेवल पर फर्क नहीं पड़ता. ये मेरी टीम है, कोच और मुझे जो ठीक लगेगा और जो साइड हमें चाहिए होगा, हम वही खिलाएंगे. बहुत समय है, सबको मौका मिलेगा और जब चांस मिलेगा तो लंबा मिलेगा. अगर बड़ी सीरीज होती, ज्यादा मैच होते तो जाहिर तौर पर मौके ज्यादा होते. ये छोटी सीरीज थी. मैं ज्यादा बदलाव में विश्वास नहीं करता हूं और आगे भी नहीं करुंगा.’

हार्दिक पंड्या कहते हैं, ‘जैसे मुझे सिक्स बॉलिंग ऑप्शन चाहिए था और वो चीज इस टूर में आया है. जैसे दीपक हुड्डा ने बॉल डाला है. थोड़ा-थोड़ा करके यदि ऐसे बल्लेबाज चिप करते रहेंगे, तो आपके पास नए बॉलर्स का प्रयोग करके विपक्षी टीम को सरप्राइज करने के बहुत सारे मौके होंगे.’

उन्होंने आगे कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो मैं चीजों को सरल बनाए रखता हूं. मैं एक मैच में कप्तानी करूं या श्रृंखला में, मैं अपने तरीके से टीम की अगुवाई करूंगा. जब भी मुझे मौका दिया गया तो मैंने वैसे ही क्रिकेट खेली जैसा मैं जानता हूं.’ बतौर कप्तान हार्दिक पंड्या की यह दूसरी टी20 सीरीज जीत है.

इन्हें भी पढ़े : IND vs NZ: वेलिंग्टन में बारिश की भेंट चढ़ा, इंडिया -न्यूजीलैंड का पहला T20 मुकाबला

ऋषभ के बल्ले से निकले हैं सिर्फ 17 रन

टी20 सीरीज में विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन की जगह Rishabh panth जैसे प्लेयर को प्लेइंग-11 में में तवज्जो दी गई, जो बल्ले से दोनों पारियों में फ्लॉप रहे. पंत दूसरे टी20 मुकाबले में सिर्फ छह रन बना पाए. उसके बाद आखिरी टी20 मैच में उनके बल्ले से महज 11 रन निकले थे.

संजू को सिर्फ 26 मैच में मिला है मौका

हालिया समय में संजू को काफी कम मौके मिले हैं. पहले ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए Sanju Samson के ऊपर Rishabh panth और दिनेश कार्तिक जैसे प्लेयर्स को तवज्जो दी गई. सैमसन ने अबतक इंडिया के लिए 16 टी20 इंटरनेशनल में 21.14 की औसत और 135.15 के स्ट्राइक रेट से 296 रन बनाए हैं.