रायपुर। CG NEWS : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा कलेक्टरों को राजस्व प्रकरणों त्वरित निराकरण के दिए गए निर्देशों के परिपालन में धमतरी जिले की धमतरी तहसील में घर-घर अभियान प्रारंभ किया गया है। इस अभियान के तहत पटवारी अपने हल्के के खातेदारों, किसानों के घर-घर जाकर उनकी राजस्व प्रकरणों से संबंधित जानकारी ले रहे हैं और निर्धारित प्रक्रिया के तहत राजस्व प्रकरणों का यथाशीघ्र निराकरण कर रहे हैं। लोगों को घर पहुंचकर जाति, आय, निवास प्रमाण पत्र हेतु आवश्यक दस्तावेज उपलब्ध कराए जा रहे हैं, इससे लोगों को पटवारी और तहसील कार्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़ रहा है।

 

 

धमतरी तहसील में जिला कलेक्टर पी.एस.एल्मा के निर्देश पर 02 नवंबर 2022 से घर-घर अभियान प्रारंभ किया गया है। इस अभियान के तहत पटवारियों को निर्देश दिए गए हैं कि-प्रत्येक पटवारी अपने-अपने हल्कों के समस्त ग्रामों में निवासरत खाताधारकों से व्यक्तिगत संपर्क करें। खाताधारकों के फौत की जानकारी होने पर वारिसानों की सूची भुईयां पोर्टल में अपलोड करें। संबंधित तहसीलदार, नायब तहसीलदार निर्धारित समयावधि के भीतर फौती नामांतरण के आदेश पारित करें।

 

पटवारियों को यह निर्देश भी दिए गए हैं कि घरों में भ्रमण के दौरान पटवारी निवासरत लोगों से जाति, आय, निवास प्रमाण पत्र से संबंधित जानकारी लें और उन्हें आवश्यकता होने पर संबंधित दस्तावेज उपलब्ध करायें। पटवारियों को सप्ताह में कम से कम 02 दिन अपने-अपने हल्कों के स्कूलों में जाकर वहां अध्ययनरत विद्यार्थियों के शत्-प्रतिशत जाति प्रमाण पत्र बनाने में आवश्यक सहयोग प्रदान करने के निर्देश भी दिए गए हैं।

 

 

घर-घर अभियान के तहत धमतरी तहसील अंतर्गत कुल 70 हजार 643 खाताधारकों में से पटवारियों द्वारा अब तक 19 हजार लोगों से संपर्क किया गया है। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व धमतरी श्री विभोर अग्रवाल से मिली जानकारी के अनुसार फौती नामांतरण के 370 प्रकरण भुईयां पोर्टल में दर्ज किये जाने हेतु प्रदान किया गया, जिस पर नामांतरण की कार्यवाही प्रारंभ कर दी गयी है। इसी प्रकार 1806 लोगों को जाति प्रमाण पत्र हेतु आवश्यक दस्तावेज उपलब्ध कराये गये। आर.बी.सी. 6-4 एवं अन्य 392 विविध प्रतिवेदनों को पटवारियों द्वारा आम जनता को प्रदान किया गया है।

 

धमतरी तहसील में कक्षा 6वीं से 12वीं तक अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग के अध्ययनरत 20 हजार 233 विद्यार्थियों में से अब तक 15 हजार 274 विद्यार्थियों के जाति प्रमाण पत्र बनाये जा चुके हैं। शेष विद्यार्थियों के जाति प्रमाण पत्र अतिशीघ्र बनाने की कार्यवाही की जा रही है।

 

 

घर-घर अभियान के तहत राजस्व विभाग का अमला घर-घर जाकर लोगों से संपर्क कर रहा है और लोगों की राजस्व संबंधी समस्याओं के निराकरण में उचित सहयोग प्रदान कर रहा है। इस अभियान से लोग उत्साहित हैं। पटवारियों के घर, मोहल्ला, बस्ती में जाने के कारण आम जनता को पटवारी, तहसील कार्यालय का चक्कर नही लगाना पड़ रहा है, उनके समय और परिश्रम की बचत हो रही है। इससे लोगों को काफी राहत मिली है। इस अभियान के प्रारंभ होने पर इस तहसील के लोग मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल और जिला प्रशासन को धन्यवाद देते हुए उनके प्रति आभार प्रकट कर रहे हैं।

 

तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार द्वारा भी हल्कों में घूम-घूमकर पटवारियों के कार्यों का निरीक्षण किया जा रहा है। अभियान के तहत राजस्व विभाग का अमला अधिक से अधिक लोगों से मिलकर उनकी समस्याओं का निदान कर पाएगा।