ग्रैंड न्यूज़ डेस्क। CRIME NEWS : राजस्थान के जोधपुर में दो बहनों के किडनैप मामले में पकड़ा गया आरोप हितेंद्र पाल उत्तराखंड का कुख्यात गैंगस्टर निकला। उस पर 17 से ज्यादा संगीन मामले दर्ज हैं। यही नहीं, हितेंद्र चौंकाने वाला खुलासा भी किया कि उसने ही एके-47 से संत ज्ञानेश्वर का मर्डर किया था। संत का मर्डर 2006 में हुआ था।

 

ALOS READ : CRIME NEWS : 9 राज्यों से 500 लड़कियों को किया डेट, अब पुलिस की गिरफ्त में गैंगस्टर, जाल में फांसकर करता था अय्याशी 

 

इधर, जब पुलिस ने उसका मोबाइल खंगाला तो और भी हैरान कर देने वाले खुलासे हुए। हितेंद्र ने 9 स्टेट की लड़कियों को ऐप के जरिए अपने जाल में फंसा रखा है। उसकी फ्रेंड लिस्ट में करीब 500 लड़कियां थीं। इन्हीं में से उसने 10 को शादी का झांसा देकर उनके साथ रिलेशन बनाए थे।

 

ALSO READ : Shraddha Murder Case : हम एक बेहद जघन्य अपराध को सरल बना रहे है : श्रद्धा की हत्या को ‘लव जिहाद’ का मामला कहे जाने पर Smriti Irani

 

जोधपुर डीसीपी अमृता दुहन ने बताया कि हितेंद्र ने पूछताछ में बताया कि वह दिव्यांग और साधारण लड़कियों या फिर कम सुंदर दिखने वाली लड़कियों को अपने जाल में फंसाता था। ओला पार्टी फ्रेंडशिप ऐप पर उसने अंश नाम से फर्जी आईडी बना रखी थी। यहां पहले लड़कियों से दोस्ती करता और इसके बाद शादी का झांसा देकर रेप करता था। हर बार वह अपना नाम और पहचान छिपाता था। उसने फर्जी आईडी और दूसरे दस्तावेज के जरिए कई शहरों में फरारी काटी। लड़कियों के पैसों पर ही वह अय्याशी करता था।

 

 

लड़कियों के पैसों से अय्याशी

हितेंद्र लड़कियों को अपने जाल में फंसा कर उनके पैसों से अय्याशी करता था। वह किसी भी शहर में 15-20 दिन से ज्यादा नहीं रहता था। अपनी आईडी व पहचान बदलता रहता था। सोशल मीडिया पर ओला पार्टी एप पर वह खुद को बड़ा बिजनेसमैन बताता था।

 

ALSO READ : BIG NEWS : नक्सलियों की बड़ी साजिश नाकाम, जवानों ने भारी मात्रा में विस्फोटक और बम किए बरामद

दिल्ली, असम, बिहार, पुणे , महाराष्ट्र, राजस्थान में जयपुर जोधपुर, गाजियाबाद, उत्तरप्रदेश,उत्तराखंड के शहरों की लड़कियों को वह अपने जाल में फंसा चुका था। अपराधी इतना शातिर था कि खुद के नाम से कोई सिम या बैंक खाता ऑपरेट नहीं करता था।

 

जिन लड़कियोंं से दोस्ती करता या रिलेशन बनाता था उन्हीं की आईडी से सिम लेता और बैंक खाते खुलवाता था। वह खुद को बड़ा बिजनेसमैन बताता था। कई लड़कियोंं को वह बता चुका था कि उसका लकड़ियों का बड़ा बिजनेस है। लड़कियों को झांसा देता था कि वह उनसे शादी कर लेगा और उनकी हर तरह से मदद करेगा।

 

ALSO READ : CG Road Accident News : ढाबे से लौट रहे युवकों की कार अनियंत्रित होकर पलटी, 1 की मौत, 4 घायल

 

ओला पार्टी फ्रेंडशिप ऐप से दोस्ती

जोधपुर से दो बहनों को लेकर हितेंद्र भोपाल भाग गया था। उसने फर्जी दस्तावेज भी बनवा लिए थे जिसमें एक को पत्नी और दूसरी को बहन बताया था। जोधपुर पुलिस जब हितेंद्र को भोपाल से पकड़ कर लाई तो उससे कई खुलासे किए। दुहन ने बताया कि 18 नवंबर को जोधपुर के माता के थान में एक पिता ने दो बेटियों के गायब होने का मामला दर्ज करवाया था।

पिता ने बताया कि उनकी एक 21 और एक 16 साल की बेटी है। 16 नवंबर को 3 बजे कहीं चली गईं। जब उन्होंने अपने स्तर पर पड़ताल की तो सामने आया कि उनका किराएदार हितेंद्र पाल (43) लेकर भाग गया है। हितेंद्र की दोस्ती उनके लड़के से ओला पार्टी फ्रेंडशिप ऐप के जरिए हुई थी।