रायपुर। RAIPUR BREAKING : केंद्र के खिलाफ आज सोमवार को छत्तीसगढ़ में कांग्रेस राजभवन घेराव कर रही है। इस घेराव कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ प्रदेश प्रभारी कुमारी शैलजा, सीएम भूपेश बघेल, पीसीसी चीफ मोहन मरकाम, स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव समेत सैंकड़ों की तादात में नेता और कार्यकर्ता मौजूद हैं। कांग्रेस का ये प्रदर्शन पूरे देशभर में हो रहा है।

 

हिंडनबर्ग रिपोर्ट आने के बाद अडानी मामले को लेकर कांग्रेस ने केंद्र को जमकर घेरा है। अंबेडकर चौक पर कांग्रेस की जनसभा हुई जिसमे सीएम भूपेश बघेल ने केंद्र को जमकर घेरा। सीएम ने कहा – जो किराए के घर में रहते हैं उनके घर पर ED छापा मारती है। जहां करोड़ों का घोटाला हुआ वहां ED नहीं जाती है। सीएम ने आगे कहा – केंद्र ने सरकारी एजेंसियों पर कब्जा किया हुआ है। SBI और LIC का पैसा अडानी को दे दिया गया है।

 

सीएम ने कहा कि हिंडनबर्ग क्या प्रकाशित हुआ दुनिया के दूसरे नंबर का अमीर आदमी गिरते-गिरते कौन से नंबर पर आ गया कि अब कोई पूछ नहीं रहा। आखिर उस पेपर में ऐसा क्या था कि जिसके आते ही शेयर मार्केट लगातार गिरता चला गया और दो बार बंद करना पड़ा। जब उनका शेयर गिर रहा है तो फिर भी उन्हें पैसा दिया जा रहा है, ये किसके इशारे पर दिया जा रहा है और क्यों दिया जा रहा है? जो जहाज डूबने वाला है उससे पहले चूहे भागते है फिर इंसान धीरे-धीरे बाहर आता है लेकिन इसमें और डालने वाला कौन है?

 

जो आदमी किराए के मकान में रहता है उसके यहां ED छापा मारती है लेकिन जहां करोड़ों रुपए छुपा है वहां ED नहीं जाएगी। सरकारी संस्थाओं को कब्जे में रख लिया गया है, लिया गया है। उन्हें जैसा निर्देश दिया जाता है वैसे-वैसे कार्रवाई होती है। LIC का पैसा फंसा हुआ है, बैंकों का पैसा फंसा है क्यों इसकी जांच नहीं की जा रही इसी मुद्दे को लेकर ये घेराव किया जा रहा है।

 

स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने इस दौरान कहा देश को बचाने की जवाबदारी हम सब के ऊपर है। देश में प्रजातंत्र को सही राह में रखने की जवाबदारी हमारी तरफ है और इसके लिए कांग्रेस आगे बढ़ रही है।

 

मरकाम बोले- केंद्र में ‘हम दो हमारे दो’ की सरकार

आज पूरे देशभर में राजभवन घेराव का कार्यक्रम किया गया है। केंद्र की मोदी सरकार अडानी ग्रुप को बचाने का काम कर रही है । हमारी मांग है ग्रुप की जांच हो। उन्होंने आगे कहा कि केंद्र में ‘हम दो हमारे दो कि सरकार है’ मोदी जी कहते थे ना खाऊंगा ना खाने दूंगा, लेकिन मोदी जी खुद भी खा रहे हैं और मित्रों को भी खिला रहे हैं।

मरकाम ने आगे कहा कि पीएम के भाषण में अक्सर कहा जाता है देश बदल रहा है मगर हकीकत यह है कि देश देश बिक रहा है । हमारी मांग है LIC स्टेट बैंक और अन्य बैंकों की जो संपत्तियां हैं जो देश के खून पसीने की कमाई और आम जनता का पैसा इनमें लगा है। उनका पैसा सुरक्षित हो। आम जनता की लड़ाई कांग्रेस पार्टी लड़ रही है। हम महामहिम राज्यपाल के माध्यम से केंद्र सरकार से मांग करते हैं की अडानी की कंपनियों की जांच होनी चाहिए।

 

अंबेडकर चौक में सभा को संबोधित करने के बाद कांग्रेस नेताओं का दल राजभवन मार्च के लिए निकला । प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम समेत 11 कांग्रेस नेताओं का प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल बिस्वा भूषण हरिचंदन से मिला । ज्ञापन देकर कांग्रेस नेताओं ने महामहिम से अडानी समूह की जांच करवाने की मांग की।

 

इस आंदोलन में शामिल होने कुमारी सैलजा जब सुबह रायपुर एयरपोर्ट पर पहुंची तो उन्होंने कहा था- आज के दिन जो हालात जो बने हैं। लोकसभा, राज्यसभा में मुद्दा उठा। हमारे देश का बिजनेस हाउस क्यों सुर्खियों में आया। संसद में पूछे गए सवालों का जवाब नहीं दिया गया। राहुल गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे ने जो भी बात कही उसे सदन के रिकॉर्ड से हटा दिया गया। बहुत सी बातें बेनकाब होंगी। जिस तरह से यहां पर सभी की आवाज दबा दी जाती है। उससे संबंधित ज्ञापन राज्यपाल को देंगे। आगे भी इस बात को उठाते रहेंगे।

 

केन्द्र की अडानी परस्ती वाली नीति के विरोध में कांग्रेस का ये प्रदर्शन देशभर में हो रहा है। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के अंबेडकर चौक में धरने के बाद कांग्रेसजन राजभवन जाकर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपेंगे। इस कार्यक्रम में कांग्रेस के ब्लाक से लेकर प्रदेश स्तर तक के पदाधिकारी शामिल होंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा सरकार की अडानी के पक्ष में कोनी कैपिटलिज्म नीति के कारण देश का नुकसान हो रहा है।

 

कांग्रेस का आरोप है कि गहरे आर्थिक संकट के समय भाजपा की मोदी सरकार देश के महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे को अडानी समूह को बेच रही है और एसबीआई व एलआईसी जैसी सार्वजनिक संस्थाओं को अडानी समूह में निवेश करने को मजबूर कर रही है, जिससे गरीब और मध्यम वर्ग के भारतीयों की करोड़ों की बचत जोखिम में है, जिसके खिलाफ देशभर में कांग्रेस पार्टी द्वारा चरणबध्द आंदोलन चलाया जा रहा है। रायपुर के इस प्रदर्शन में एआईसीसी के प्रदेश प्रभारी सचिव डॉ. चंदन यादव, सप्तगिरी शंकर उल्का, संयुक्त सचिव विजय जांगिड़ सहित प्रदेश के वरिष्ठ नेतागण विशेष रूप से उपस्थित हुए हैं।

 

15 को विधानसभा घेरेगी भाजपा

इधर भाजपा लगातार अपने नेताओं की बैठक ले रही है। भाजपा के सह संगठन प्रभारी नितिन नबीन ने कहा- पूरी तरह से छत्तीसगढ़ में जन आक्रोश दिख रहा है। कांग्रेस सरकार ने गरीबों का आवास छीन लिया है। लाखों हितग्राहियों का आवास बनते, जो पैसा आया केंद्र से उसे वापस कर दिया। उनके खुद के मंत्री टीएस सिंहदेव ने इसकी पुष्टी की है। अब हम 15 मार्च को प्रदेशभर के हितग्राहियों के साथ आंदोलन करने जा रहे हैं।