मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर सोमवार (24 फरवरी) को 50 साल के हो गए. सचिन ने महज 16 साल 205 दिन की उम्र में टीम इंडिया के लिए डेब्यू किया और 24 साल तक क्रिकेट की दुनिया पर राज करने के बाद नवंबर 2013 में अपने करियर पर विराम लगाया।

Read more : DID lil Masters 5 Winner: महज नौ साल की उम्र में कर दिखाया कमाल, DID Lil Masters के विनर बने नोबोजित नारजारी

25 अप्रैल 1990 से 24 अप्रैल 1998 के दौरान सचिन तेंदुलकर ने लगातार 239 मैचों (54 टेस्ट और 185 वनडे) में भारत का प्रतिनिधित्व किया. किसी एक देश के लिए लगातार मैच खेलने का यह विश्व रिकॉर्ड है।

टेस्ट और वनडे में सर्वाधिक रन( run) 

सचिन तेंदुलकर ने अपने इंटरनेशनल करियर में 200 टेस्ट तो 463 वनडे मुकाबले खेले, जो एक वर्ल्ड रिकॉर्ड भी है। सचिन क्रिकेट के सबसे लंबे फॉर्मेट में 200 मैच खेलने वाले दुनिया के इकलौते बल्लेबाज हैं। सचिन ने अपने टेस्ट करियर में खेल 329 पारियों में 53.78 की औसत से 15,921 रन कूटे। वहीं, वनडे में लिटिल मास्टर के बल्ले से 18,426 रन निकले। टेस्ट और वनडे में कोई भी बल्लेबाज सचिन के इस रिकॉर्ड के आसपास भी नजर नहीं आता है।

 

बात लाइफ पार्टनर की

सचिन की लाइफ पार्टनर का नाम अंजलि है। अंजलि, सचिन से उम्र में 6 साल बड़ी हैं लेकिन इसके बावजूद उनके रिश्ते में इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ा। सचिन और अंजलि पहली बार एक दूसरे से एयरपोर्ट पर मिले थे। पहली ही नजर दोनों एक दूसरे को दिल हार बैठे। हालांकि पहली मुलाकात में दोनों के बीच कोई बातचीत तो नहीं हुई लेकिन अंजलि की कॉमन फ्रेंड उन्हें सचिन के बारे में बताया कि वह क्रिकेटर हैं।सचिन की अंजलि से जब एयरपोर्ट पर मुलाकात हुई थी तो वह इंग्लैंड दौरे से वापस आ रहे थे जबकि अंजलि अपनी मां को रिसीव करने वहां गई थी। पहली मुलाकात के बाद दोनों एक पार्टी में एक दूसरे मिले। यहां पर सचिन और अंजलि के बीच पहली बार बातचीत हुई।

करियर में 1992 से 2011 तक 6 विश्व कप में हिस्सा लिया

सचिन तेंदुलकर ने अपने करियर में 1992 से 2011 तक 6 विश्व कप में हिस्सा लिया। इसमें दो बार फाइनल (2003 और 2011) खेला। साल 2011 में फाइनल जीता भी। सचिन तेंदुलकर भले ही अपने दो विश्व कप फाइनल में बड़ा स्कोर करने में नाकाम रहे। इसके बावजूद उपरोक्त टूर्नामेंट्स में उनके समग्र प्रदर्शन और योगदान ने भारत को फाइनल में पहुंचाने में बड़ी भूमिका निभाई।