रायपुर। CG PSC Result : छत्तीसगढ़ में 2021 पीएससी का रिजल्ट जारी कर दिया गया है. 171 पोस्ट पर भर्ती निकाली गई थी जिसका लंबे समय बाद रिजल्ट जारी किया गया है. इसके लिए 1 लाख से अधिक युवाओं ने परीक्षा दिया था. इस साल पीएससी में लड़कियों ने बाजी मारी है. रायपुर की प्रज्ञा नायक ने पीएससी में टॉप किया है. डिप्टी कलेक्टर के पोस्ट पर 15 लोगों का चयन हुआ है. इसके अलावा 30 डीएसपी पोस्ट पर चयन हुआ है. युवा अपना रिजल्ट सीजी पीएससी की वेबसाईट पर चेक कर सकते है.

रायपुर की प्रज्ञा नायक ने पीएससी में किया टॉप

छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग (CG PSC) में रायपुर की प्रज्ञा नायक ने पहली रैंक हासिल की है।

प्रज्ञा ने बताया कि उन्‍होंने वर्ष-2020 से लक्ष्य तय कर सिविल सर्विसेस परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी थी। खुद को साबित करने के लिए बिना कोचिंग के घर पर ही रहकर पढ़ाई की। 10 से 11 घंटे तक सेल्फ स्टडी की। जो चीजें समझ नहीं आती उसे बार-बार पढ़तीं। 12वीं में गणित विषय लेकर पढ़ाई की। पर‍िवार के लिए यह दोहरी खुशी का पल है क्‍योंकि प्रज्ञा के भाई प्रखर नायक ने भी सीजीपीएससी में 20वां रैंक हासिल की है।

दरअसल 2021 में पीएससी ने 20 सेवाओं पर 171 पदों पर नोटिफिकेशन जारी किया था. इसके लिए 1 लाख से अधिक युवाओं ने परीक्षा दिया. लेकिन मुख्य परीक्षा के लिए केवल 2565 युवाओं का चयन हुआ. इसके बाद 2022 में 26 मई से 29 मई के बीच मुख्य परीक्षा हुई. इसमें 509 युवाओं को इंटरव्यू के लिए चयन किया गया था. 20 सितंबर 2022 से 30 सितंबर 2022 के बीच इंटरव्यू के लिए चयनित छात्रों का इंटरव्यू हुआ. लिखित परीक्षा और इंटरव्यू में प्राप्त अंकों के कुल योग से मेरिट का चयन किया गया है. इसके बाद 171 पोस्ट में से 179 पोस्ट पर पीएससी ने गुरुवार को चयन सूची जारी कर दी है.

सीजी पीएससी 2021 के टॉप रैंकर

पूरे प्रदेश में पहले और दूसरे नंबर पर लड़कियों ने बाजी मारी है. टॉप टेन में 5 लडकियां है. आपको बता दें कि प्रज्ञा नायक ने पूरे प्रदेश में टॉप किया गया है. दूसरे नंबर पर अनन्या अग्रवाल ने जगह बनाई है. इसके बाद शशांक गोयल, भूमिका कटियार, राना विजय, अमित कुमार भारद्वाज, नितेश, खुशबू बिजोरा, नेहा , प्रिंस तंबोली, साक्षी ध्रुव, निखिल, सुमित ध्रुव, महेंद्र सिदार और राजेंद्र कुमार कौशिक को डिप्टी कलेक्टर की पोस्ट मिली है.

राज्य सेवा आयोग की परीक्षा में सब रजिस्ट्रार से डिप्टी कलेक्टर बने रायपुर निवासी शशांक गोयल ने बताया कि वे पिछले छह-सात वर्षों से इसकी तैयारी कर रहे थे। पिछले वर्ष भी उनका चयन हो गया था,लेकिन रैंक ज्यादा आने के कारण उन्हें अच्छी पोस्ट नहीं मिली। इस वर्ष उनकी तैयारी रंग लाई और वे तीसरे स्थान पर रहे।

आरक्षण विवाद के चलते अटका था रिजल्ट

गौरतलब है कि 2021 के परीक्षा का रिजल्ट 2023 में जारी हो रहा है. इतना लंबा वक्त लगने के पीछे 2022 में हुए आरक्षण विवाद है. इसके चलते राज्य में सभी सरकारी भर्ती रोक दी गई थी. अब सुप्रीम कोर्ट ने राज्य के 58 प्रतिशत आरक्षण को मान्य किया है इसके बाद लगातार सभी सरकारी भर्ती अटके रिजल्ट को जारी किया जा रहा है. इसके अलावा नई वेकेंसी भी जारी किया जा रहा है.